Delhi: सभी सरकारी स्कूलों में आज से ‘देश के मेंटर’ योजना की शुरुआत, CM केजरीवाल बोले- दिल्ली की शिक्षा पिछले कई सालों में बदली

नई दिल्ली: सोमवार को नई दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में ‘देश का मेंटर’ कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने कहा स्कूल खत्म होने के बाद बच्चों को यह नहीं पता होता कि वह भविष्य में क्या करे। अगर बच्चों को उस समय अच्छे मेंटोर मिलेंगे जो उन्हें बता सकें कि वह आगे क्या कर सकते हैं तो बच्चों को काफी मदद मिलेगी।

Delhi के सभी सरकारी स्कूलों में आज से ‘देश के मेंटर’ योजना की शुरुआत

सीएम बोले कि दिल्ली में शिक्षा में कुछ अदभुत हो रहा है। दिल्ली के सरकारी स्कूल मे बच्चों को आंकड़ा 16 लाख ही रहता था। लेकिन इस साल ये बढ़कर 18 लाख 70 हज़ार हो गया है। ये परिवर्तन हुआ है। प्राइवेट स्कूल से 2 लाख 70 हज़ार बच्चे सरकारी मे आ जाएं तो ये बदलाव है।

CM ने कहा दिल्ली के शिक्षा के काम की महक अमेरिका के राष्ट्रपति के घर तक जा रही है। बच्चों को बिजनेस शुरु कर रहे हैं। सरकारी स्कूल के बच्चों को नौकरी ढूंढने नही , नौकरी देने के लिए सिखाया , तैयार किया जा रहा है। बच्चों को अच्छा इंसान बनना सिखाया जाता है। 9वीं के बाद बच्चों मे दो चीजे जरूरी होती है।

एक ऐसा मेंटर मिले जिसके साथ वो अपनी सारी बातें शेयर कर सकें…

  • 1. इमोशनल नीड बच्चों को होती है। 
  • 2. 9 से 12 के बाद आगे क्या करना है, क्या बनना है।

आगे दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर आप एक बच्चे को भी तैयार कर रहे हैं एक मेंटर की तरह तो आप भी राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे रहे हैं। आज शिक्षा को एक बड़ा कदम उठाया जा रहा है। शिक्षा जन आन्दोलन बनेगी। दिल्ली की शिक्षा पिछले कई सालों मे बदली है। अभिभावक , टीचर पुरा मंत्रालय बहुत अच्छा कर रहे हैं , सिर्फ एक कमी है बच्चे की होल्डिंग करना,एक मेंटर की, किसी भी रूप में हो लेकिन बच्चे को समझना उन्हें आगे बढ़ने के लिए। इसी के लिए इसकी शूरुआत की जा रही है देश का मेंटर बच्चे के अन्दर सपनों को पालने का काम मेंटर करेगा।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.