केजरीवाल का भाजपा पर तंज कहा- ‘गरीब के खाने पर टैक्स, अमीरों का 5 लाख करोड़ कर्ज माफ’,

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. पीएम मोदी के ‘रेवड़ी कल्चर’ वाले तंज पर जवाब देते हुए केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी ठगा सा महसूस कर रहा है, क्योंकि केंद्र सरकार ने गरीब के खाने पर भी टैक्स लगा दिया है, वहीं बड़े व्यापारियों का 5 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया गया है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से जनता को मुफ्त में मिलने वाली सुविधाओं का विरोध किया जा रहा है, कहा जा रहा है कि सारी मुफ्त की सुविधाओं को बंद किया जाए. क्या केंद्र सरकार की आर्थिक हालत ज्यादा खराब तो नहीं हो गई है।

केजरीवाल बोले कि केंद्र सरकार जब अग्निपथ योजना लाई तब कहा गया कि इसको लाने की जरूरत इसलिए पड़ी क्योंकि सैनिकों के पेंशन का खर्च इतना बढ़ गया कि केंद्र सरकार उसको बर्दाश्त नहीं कर पा रही. दिल्ली सीएम बोले कि आजादी के बाद पहली बार ऐसा हो रहा है कि कोई सरकार ऐसा कह रही है।

आगे कहा गया कि केंद्र सरकार ने 8वां वेतन आयोग लाने से भी मना किया है. केजरीवाल ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने मनरेगा के लिए पैसा नहीं होने की बात कही है और इस साल इसमें 25% की कटौती हुई है।

केंद्र से सीएम केजरीवाल के सवाल

दिल्ली सीएम ने पूछा कि केंद्र सरकार का 40 लाख का बजट है, लेकिन सारा पैसा कहां जा रहा है? केजरीवाल ने आगे आरोप लगाते हुए कहा, ‘इन्होंने (केंद्र) अपने सुपर अमीर दोस्तों के लाखों-करोड़ों के कर्जे माफ कर दिए, क्यों? ये कर्जे माफ नहीं होते तो टैक्स नहीं लगाना पड़ता. साढ़े 3 लाख करोड़ की आमदनी पेट्रोल-डीजल के टैक्स से होती है? कहां गया पैसा।

केजरीवाल ने आगे आरोप लगाया कि, ‘सरकारी स्कूल बंद करने की बात हो रही है. फ्री इलाज बंद होना चाहिए ऐसा कहा जा रहा है, लेकिन ऐसे में गरीब पैसा कहां से लाएगा. सरकारी पैसा चंद लोगों पे उड़ाया तो देश कैसे चलेगा।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.