उन्नाव: पेपर कैंसिल होने के बाद छात्रा ने लगाई फांसी, इंटर का Paper Leak होने से थी परेशान

छात्रा की मौत

उन्नाव: पेपर कैंसिल (Paper Cancel) होने के बाद घर पहुंची छात्रा ने फांसी (Stundent Suicide) लगा कर जान दे दी। (Unnao) माखी थाना क्षेत्र की रहने वाली इंटर की छात्रा ने बन्द कमरे में पंखे के हुक से बीती देर रात फांसी के फंदे से झूल कर फांसी लगा ली। छात्रा की मौत की परिजनों को जानकारी हुई तो परिवार में कोहराम मच गया।

Exam कैंसिल होने के बाद छात्रा ने लगाई फांसी

रिश्तेदारों ने बताया कि वह काफी समय से बीमार चल रही थी। लोगों में चर्चा यह भी रही कि इंटर का पेपर लीक होने से वह तनाव में आ गई। फिलहाल अभी इसकी पुष्टि परिजन नहीं कर रहे हैं। पुलिस को एक सुसाइड नोट (Suicide Note) मिला है। मामले में पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने छात्रा की मौत को लेकर ट्वीट भी किया है।

पेपर कैंसिल होने के बाद छात्रा ने लगाई फांसी

उन्नाव (Unnao) के माखी थाना क्षेत्र के रुदाई खेड़ा गांव निवासी अशोक पाल की पुत्री शिवांकी (17) इंटर की छात्रा थी। बीते दिन वह अंग्रेजी का पेपर (English Paper) देने के लिए परीक्षा केंद्र पर गयी थी। पेपर लीक (Paper Leak) होने के बाद वह वापस घर लौटी थी। मां छोटे भाई के साथ मवेशियों को चराने के लिए खेत गयी थी। देर रात घर लौटी तो बेटी का शव कमरे में लटकता देखा तो कोहराम मच गया। मां ने बताया कि पहले से ही मानसिक रूप से बीमार चल रही थी। जिसका उपचार चल रहा था पिता मुंबई में प्राइवेट नौकरी करता है। मृतका दो बहनों के बीच छोटी थी बड़ी बहन नैंसी की शादी हो गई है। छोटा भाई सुभाष है।

अखिलेश यादव ने छात्रा की मौत को लेकर सरकार पर बोला हमला

घटना की जानकारी माखी की पुलिस को हुई मौके पर चौकी इंचार्ज पावा राजेन्द्र द्विवेदी मौके पर पहुंचे। महिला सिपाहियों से तलाशी के दौरान उसके पास एक सुसाइड नोट (Stundent Suicide) बरामद हुआ है। जिसमें उसने लिखा है मेरे माता-पिता को कुछ ना हो मैंने स्वयं फांसी लगाई है। पुलिस ने छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए उन्नाव मोर्चरी भेजा है। रिश्तेदारों का कहना है कि किन वजहों से फांसी लगाई है, अभी यह स्पष्ट नहीं है इंटर का पेपर लीक हुआ है इसके साथ ही वह बीमार भी रहती थी। पूरे मामले में पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने भी छात्रा की मौत के बाद ट्वीट किया है और सरकार पर हमला बोला है।

Read Also:- UP Board Paper Leaked मामले पर CM योगी सख्त, STF को सौंपी मामले की जांच

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.