हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने से दिल्ली में बढ़ा यमुना नदी का जलस्तर

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में पहाड़ों समेत लगातार हो रही बारिश ने यमुना नदी (Yamuna river) का जलस्तर बढ़ा दिया है। बता दें कि सोमवार को यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के करीब 204.38 मीटर ऊपर पहुंच गया था। जिसके चलते यमुना नदी (Yamuna river) के बढ़ते जल स्तर पर दिल्ली सरकार (Delhi Government) के मंत्री सत्येंद्र जैन (Minister Satyendar Jain) ने कहां है कि सरकार बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है

जानकारी के अनुसार अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल हथिनीकुंड बैराज (Hathnikund Barrage) से सामान्य स्तर से पांच से दस हजार क्यूसेक (cusec) के बीच नियमित रूप से पानी छोड़ा जा रहा है। जिससे दिल्ली में अभी बाढ़ की ज्यादा संभावना नहीं है। इसके अलावा मौसम विभाग (weather department) ने भविष्यवाणी की है कि जलस्तर तेजी से बढ़ सकता है क्योंकि वह आने वाले दिनों में भारी बारिश (Heavy rainfall) की संभावना जता रहे है।

दिल्ली में खतरे के निशान पर यमुना नदी

मालूम हो कि दिल्ली में यमुना नदी का खतरे का निशान 205.33 मीटर है। दरअसल, सोमवार को यमुना नदी इससे करीब एक मीटर नीचे बह रही है। जबकि रविवार सुबह करीब 8 बजे जलस्तर 204.18 मीटर था। सोमवार की शाम जलस्तर में मामूली गिरावट दर्ज की गई थी। वहीं हथिनीकुंड से निकलने वाले पानी की मात्रा बढ़ने से आने वाले दिनों में जलस्तर में और इजाफा होगा।

दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जेन ने बताया है कि “दिल्ली का बाढ़ से बचने की तैयारियां पूरी हैं। जैसे ही जल स्तर बढ़ता है, सरकार इससे बचाव के प्रभावी कदम उठाएगी। इसके लिए राहत व बचाव कार्य युद्ध स्तर पर चलेगा।”

26 से 28 के बीच होगी भारी बारिश

मौसम विभाग (weather department) के मुताबिक बुधवार से दिल्ली-एनसीआर समेत पहाड़ी इलाकों में बारिश होने की संभावना है। बता दें कि मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक कुलदीप श्रीवास्तव (Kuldeep Srivastava) ने कहां है कि फिलहाल मानसून (monsoon) दिल्ली-एनसीआर के नजदीक शिफ्ट हो रहा है। बंगाल की खाड़ी व अरब सागर से चलने वाली नम हवाएं बारिश करेगी। बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) और अरब सागर (Arabian Sea) से चलने वाली नम हवाएं बरसेंगी। साथ ही 26 अगस्त की देर शाम से भारी बारिश शुरू हो जाएगी। जो 28 अगस्त तक चलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें