‘आप’ पार्टी और व्यापारियों के विरोध से डर कर भाजपा ने टैक्स बढ़ाने का फ़ैसला वापिस लिया, ये दिल्ली के व्यापारियों की जीत- आतिशी

नई दिल्ली: ‘आप’ विधायक आतिशी ने कहा कि ‘आप’ पार्टी और व्यापारियों के विरोध से डर कर भाजपा ने टैक्स बढ़ाने का फ़ैसला वापिस लिया, ये दिल्ली के व्यापारियों की जीत है। आम आदमी पार्टी ने ट्रेड व फ़ैक्टरी लाइसेन्स फीस बढ़ाने के खिलाफ सिगनेचेर कैम्पेन चलाया था। सिगनेचेर कैम्पेन में 5 लाख से अधिक व्यापारियों ने हिस्सा लिया था।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी मांग करती है कि नॉर्थ एमसीडी की तरह साउथ एमसीडी और ईस्ट एमसीडी भी इस फैसले को वापस ले। आम आदमी पार्टी यह भी मांग करती है कि जो दुकानदार और व्यापारी बढ़ी हुई फीस जमा कर चुके हैं उनको वह पैसा वापस हो। दिल्ली के साप्ताहिक बाजारों को प्राइवेट ठेकेदारों को देने का फैसला भी भाजपा ने वापस ले लिया है। दिल्ली की जनता, व्यापारियों, रेहड़ी पटरी वालों की ओर से आम आदमी पार्टी का विरोध सफल। दिल्लीवालों को इसकी बधाई। अब भाजपा की भ्रष्ट एमसीडी का जो भी गलत फैसला आएगा दिल्ली के लोग उसके खिलाफ आवाज उठाएंगे।

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी ने गुरुवार को प्रेस वार्ता को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि, जैसा कि आप लोग जानते हैं कि कुछ समय पहले दिल्ली की तीनों नगर निगमों ने ट्रेड और फैक्ट्री लाइसेंस में भारी बढ़ोतरी की थी। जिसमें जो ए और बी श्रेणी के लाइसेंस हैं उन्हें 500 से बढ़ाकर 8625 रुपए कर दिया था। वहीं सी और डी श्रेणी के लाइसेंस को 500 रुपए प्रति मीटर से बढ़ाकर 5750 रुपए प्रति मीटर कर दिया था। मुझे नहीं लगता है कि इतनी भारी बढ़ोतरी हमने पिछले कई सालों में कभी भी देखा है। रिपोर्ट- कंचन अरोड़ा

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.