Advertisement

Phone Battery: ट्रैवल करते समय क्यों जल्दी डिस्चार्ज हो जाती है फोन की बैटरी? जानें

0
Share
Advertisement

ट्रैवल करते समय फोन की बैटरी सामान्य गति से थोड़ी जल्दी खत्म होने लगती है। मेट्रो, ट्रेन या बस में सफर करते समय अक्सर ये होता है। इस वजह से कई लोग साथ में पॉवरबैंक या दूसरा फोन लेकर निकलते हैं। यहां हम आपको बताएंगे ऐसा क्यों होता है और ट्रैवल करते समय भी आप पूरी बैटरी बैकअप कैसे पा सकते हैं।

Advertisement

दरअसल. फोन में एक एंटीना लगा होता है जो लगातार नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर के टावर से कनेक्ट रहता है। यह हमेशा अच्छी कनेक्टिविटी के लिए अपने आस-पास के टॉपर को सर्च करता रहता है। इसे जिस टॉवर से अच्छा सिग्रल स्टेंथ मिलता है वहां से कनेक्ट हो जाता है।

बेहतर सिग्रल सर्च करने के लिए यह मोबाइल की बैटरी खर्च करता है जिससे आपको अच्छी इंटरनेट स्पीड और कॉल क्वालिटी मिलती है, लेकिन जब आप सफर कर रहे होते हैं तो ये लगातार नेटवर्क टावर को बदलता रहता है। एक लोकेशन से दूसरे में जाने पर यह वहां के टॉवर से कनेक्ट हो जाता है। इस प्रक्रिया में बैटरी की खपत अधिक होती है और इसलिए बैटरी जल्दी ड्रेन होने लगती है।

अगर आप बस या ट्रेन में सफर करते समय स्मार्टफोन ना भी यूज कर रहे हों, तो भी लोकेशन के बार-बार बदलने से बैटरी जल्दी खत्म होने लगती है। हालांकि, इससे बचने का एक तरीका है। सफर करते समय अगर आप फोन की बैटरी बचाना चाहते हैं तो उसे फ्लाइट मोड में डाल दें, ऐसे में आपका फोन नेटवर्क को सर्च नहीं कर पाएगा और बैटरी की बचत होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *