Advertisement

लोग समझते थे मल्लाह मतलब मछली मारने वाला-मुकेश सहनी

Sehani in Darbhanga

जनसभा के दौरान मुकेश सहनी।

Share
Advertisement

Sehani in Darbhanga:  विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) प्रमुख और बिहार के पूर्व मंत्री मुकेश सहनी गुरुवार को दरभंगा और सहरसा पहुंचे। इस दौरान अलग-अलग जन सभाओं को संबोधित करते हुए लोगों से आरक्षण की लड़ाई तेज करने और इसके लिए एकजुट होकर संघर्ष करने की अपील की।

Advertisement

Sehani in Darbhanga: सहरसा और दरभंगा में संबोधित की जनसभा

सहरसा के कबीरा धाप और दरभंगा के बाबा नागार्जुन स्टेडियम, बेनीपुर में जनसभा को संबोधित किया। सहनी ने कहा कि लोग सोचते थे कि मल्लाह मतलब मछली मारने वाला। पिछले चुनाव में हमने अपनी ताकत दिखा दी है और एक मल्लाह का बेटा सरकार में भी शामिल हुआ।

संघर्ष के लिए गंगाजल देकर कराया संकल्प

उन्होंने जोर देकर कहा कि मल्लाह अब केवल मछली नहीं मारेगा, बल्कि वह दिन दूर नहीं जब बिहार का नेतृत्व भी करेगा। सहनी ने इस दौरान उपस्थित युवाओं और महिलाओं ने आने वाली पीढ़ी के उज्ज्वल भविष्य के लिए पढ़ाने तथा अधिकारों के लिए संघर्ष करने का हाथ में गंगाजल लेकर संकल्प भी करवाया।

‘जो हमारी नाव पर बैठेगा उसे साठ सीटों का फायदा होगा’

उन्होंने कहा कि हम अपनी नाव पर उसी को बैठाएंगे जो हमारे हक और अधिकार की बात करेगा। उन्होने स्पष्ट तौर पर कहा कि जो हमारी नाव पर बैठेगा उसे 60 सीट का फायदा होगा। उन्होंने लोगों से आरक्षण के लिए एकजुट होने और संघर्ष करने का आह्वान करते हुए कहा कि हम अपना अधिकार लेकर रहेंगे।

‘दल बनाने से मिला बल, निकला समस्याओं का हल’

उन्होंने कहा कि अब वह समय चला गया जब राजा के घर में ही राजा पैदा होता था, अब जिसके पास वोट है, वही लोकतंत्र में राजा है। उन्होंने लालू प्रसाद, रामविलास पासवान, मायावती का उदाहरण देते हुए कहा कि इन्होंने दल बनाया और जब समाज ने साथ दिया तब उन्हें बल मिला। जब बल मिला तो उनके समाज की समस्याओं का हल भी मिल गया।

रिपोर्टः सुजीत श्रीवास्तव, ब्यूरोचीफ, बिहार

ये भी पढ़ें: सरकारी संसाधनों का दुरुपयोग कर चुनाव प्रचार कर रही भाजपा-उमेश सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *