Advertisement

तेजस्वी के बयान पर बोले नीतीश… जो बच्चा है, बाद में आया, इन्हें कुछ पता है?

Nitish to Tejashwi

Nitish to Tejashwi

Share
Advertisement

Nitish to Tejashwi: नौवीं बार बिहार का सीएम बनने के बाद नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बात की। इस दौरान पत्रकारों ने तेजस्वी के 17 महीने में हुए विकास के बयान पर नीतीश कुमार की प्रतिक्रिया मांगी। इस दौरान नीतीश ने तेजस्वी को बच्चा बताते हुए कहा, उन्हें कुछ पता नहीं है। क्रेडिट लेना चाहते हैं बस। उन्होंने कहा कि जब 2005 के बाद से हम सत्ता में आए तो हमने यह सब विकास करवाया।

Advertisement

‘पहले राज्य की क्या हालत थी वह भूल गए क्या’

नीतीश कुमार ने कहा कि कैसी फालतू बात करते हैं। आप भूल गए 2005-06 के बाद से। वह भूल गए कि इससे पहले राज्य की क्या हालत थी। यहां शाम के समय कोई घर से बाहर तक नहीं निकलता था।यहां कैसे पढ़ाई होती थी। क्या यहां पहले ये बड़ी-बड़ी बिल्डिंग थीं? यह सब हमने 2005 से शुरू किया। ये सारा काम हमने शुरू किया। लोगों को इलाज के लिए पैसा देना शुरू किया।

‘पहले सड़क तक नहीं थी’

नीतीश बोले, लगता है उनको याद नहीं है। इन सबका कोई काम नहीं था। यह सड़क नहीं थीं। हम भी अपने इलाके में पैदल ही 12-12 घंटे घूमते थे। अब कहीं पैदल नहीं चलना पड़ता? इन कार्यों का और एक्सपेंशन किया जाएगा। कुछ लोगों को ऐसे बयान देकर पब्लिसिटी मिलती है। हम जब केंद्र में थे तब भी हमने विकास किया। इससे पहले किसी अन्य सरकार ने बहाली की क्या। यह सब हमारे ही कार्य हैं। एक एक कार्य करते हुए इतने कार्य कर दिए। अब कोई बच्चा ऐसे ही कुछ-कुछ बोले तो इससे हमको क्या मतलब है।

क्या कहा था तेजस्वी ने

दरअसल महागठबंधन की सरकार टूटने के बाद तेजस्वी यादव ने कहा था कि बिहार की 17 साल की सरकार के कार्यों पर महागठबंधन सरकार के 17 महीने का विकास कार्य भारी हैं। इसके लिए उन्होंने आरजेडी की पीठ थपथपाई थी।

इंडी गठबंधन के बारे में बोले… हमने कहा था नाम ठीक नहीं

वहीं इंडी गठबंधन बोले, कि हमने कहा था यह नाम ठीक नहीं है लेकिन वो नहीं माने। बाद में आप लोगों ने हालत देख ही ली। हम लोग कितनी कोशिश कर रहे थे लेकिन एक काम तक नहीं हुआ। सीट शेयरिंग अभी तक नहीं हुई। इसलिए हमने छोड़ दिया। अब जिसके साथ पहले से थे उन्हीं के साथ आ गए। हम बिहार के कार्य में लगे रहते हैं और लगे रहेंगे।

यह भी पढ़ें: Dehri: रिहायशी इलाके में तेंदुए की दहशत, रेस्क्यू ऑपरेशन असफल

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *