Advertisement

CM स्टालिन के बेटे ने दिया विवादित बयान, ‘डेंगू-मलेरिया’ से की सनातन धर्म की तुलना

Share
Advertisement

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने शनिवार को सनातन धर्म को लेकर विवादित बयान दिया। उदयनिधि स्टालिन ने सनातन धर्म की तुलना डेंगू और मलेरिया से करके विवाद खड़ा कर दिया।

Advertisement

उदयनिधि स्टालिन ने दिया विवादित बयान

उदयनिधि ने कहा कि इसका सिर्फ विरोध नहीं किया जाना चाहिए, बल्कि ‘सफाया’ किया जाना चाहिए। ‘सनातन उन्मूलन सम्मेलन’ में बोलते हुए उदयनिधि स्टालिन ने कहा कि सनातन धर्म सामाजिक न्याय और समानता के खिलाफ है।

उदयनिधि ने कहा कि ‘कुछ चीजों का विरोध नहीं किया जा सकता, उन्हें ही खत्म किया जाना चाहिए। हम डेंगू, मच्छर, मलेरिया या कोरोना का विरोध नहीं कर सकते. हमें इसे खत्म करना होगा। इसी तरह हमें सनातन को खत्म करना है।’

तमिलनाडु की सत्तारूढ़ डीएमके सरकार में युवा कल्याण और खेल विकास मंत्री उदयनिधि स्टालिन ने कहा कि सनातन का विरोध करने के बजाय, इसे खत्म किया जाना चाहिए। सनातन नाम संस्कृत से है। यह सामाजिक न्याय और समानता के खिलाफ है।

INDIA गठबंधन पर हमलावर हुई BJP

उदयनिधि स्टालिन के इस विवादित बयान के बाद भाजपा ने भी विपक्षी गठबंधन INDIA के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बीजेपी प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि INDIA गठबंधन का भारत विरोधी और हिंदू विरोधी चेहरा आज साफ तरीके से उजागर हो चुका है। जिस प्रकार से DMK के नेता ने कहा कि वे न केवल सनातन धर्म का विरोध करते हैं बल्कि उसकी तुलना बीमारियों से करते हुए उसे खत्म करने की बात करते हैं। जिस धर्म में भारत के 80 फीसद लोगों की आस्था है उसे खत्म करने की बात हैं। उनका समर्थन कांग्रेस पार्टी के कार्ति चिदंबरम भी करते हैं। क्या यही मोहब्बत की दुकान है राहुल गांधी जी?

ये भी पढ़ें: ‘अगर BJP ने MCD में 15 साल काम किया होता तो…’ CM केजरीवाल का LG पर तंज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *