Advertisement

Jharkhand: ये कैसी मोहब्बत, हैवानों सी हरकत… जानिए साहिबगंज के एसिड अटैक की पूरी कहानी

Acid attack in Jharkhand

Acid attack in Jharkhand

Share
Advertisement

Acid attack in Jharkhand: एक परिवार के चार लोग अपने घर की छत पर सुकून की नींद सोए थे. उन्हें नहीं पता था कि उस रात उन्हें कोई ऐसे जख्म दे जाएगा जिसे जिंदगी भर भुलाना मुश्किल होगा. आखिर पता कैसे होता. बात सिर्फ शक से शुरू हुई थी. लेकिन ये शक एक शख्स के दिल में इस कदर घर कर गया कि वो इंसान से हैवान बन गया. उसने ऐसी हैवानियत भरी हरकत को अंजाम दे डाला कि अब पीड़ित लोग जिंदगी भर दर्द के साए में जीएंगे.

Advertisement

मामला झारखंड के साहिबगंज का है. यहां राजमहल के अनुमंडलीय अस्पताल के पुराने भवन के समीप एक अधनिर्मित मार्केट कॉम्प्लेक्स की छत पर 24 अप्रैल को देर रात एक ही परिवार के चार लोग जिसमें एक वृद्धा(60), एक युवती(35), एक युवक(30) और एक किशोरी(15) सोए थे. नींद इतनी गहरी थी कि उन्हें छत पर किसी के आने की भनक ही नहीं लगी. तभी उनके ऊपर किसी ने एक तरल पदार्थ फेंका. बस इस तरल पदार्थ के पड़ते ही वो चारों लोग बुरी तरह चीखने-चिल्लाने और छटपटाने लगे. पीड़ा असहनीय हो चली थी.

आवाज सुनकर आसपास के लोगों को लगा कि कोई बड़ा हादसा हो गया. लोग भाग कर वहां पहुंचे तो नजारा देख हर कोई विचलित हो उठा. आनन फानन में पीड़ितों को अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया. मामला पुलिस तक पहुंचा तो फौरन पुलिस हरकत में आ गई.

पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालना शुरू किए. वहीं घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद धनबाद भेज दिया गया. एसडीपीओ विमलेश कुमार त्रिपाठी के नेतृत्व में गठित एसआईटी टीम और  फॉरेंसिक टीम ने छानबीन शुरू की. पीड़ितों के बयान के आधार पर तीन संदिग्धों से पूछताछ शुरू हुई.

पूछताछ के क्रम में उत्तर प्रदेश के रहने वाले मनीष कुमार ने इस अपराध में संलिप्तता स्वीकार की. उसने बताया कि उसका ऐसिड अटैक में जख्मी एक पीड़िता के साथ अफेयर था. उसको शक था कि वह दूसरे लड़कों से बात करती है. मना करने पर वह उससे झगड़ा करती. बस इसी खुन्नस में उसने इतनी बड़ी घटना को अंजाम दे दिया.

यह भी पढ़ें: बिहार की राजधानी पटना के एक होटल में लगी आग

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *