Advertisement

Aam Aadmi Party ने मिशन 2024 के लिए “अंबेडकर फेलोशिप” प्रोग्राम के तहत 20 फेलोज का किया चयन, करेंगे ये काम…

aam aadmi party selected 20 fellows under the "Ambedkar Fellowship" program loksabha election news in hindi
Share

“अंबेडकर फेलोशिप” प्रोग्राम के तहत 20 फेलोज का चयन

Advertisement


Aam Aadmi Party ने देश के अंदर राजनीतिक परिवर्तन के उद्देश्य से “अंबेडकर फेलोशिप” प्रोग्राम के तहत 20 फेलोज का चयन  किया है। इसके लिए देश में सबसे तेजी से बढ़ती राष्ट्रीय पार्टी को देशभर से हजारों आवेदन प्राप्त हुए थे और 2 महीने के कठिन चयन प्रक्रिया के बाद  20 उम्मीदवारों को चुना गया है।

Advertisement

फेलोज को ट्रेनिंग के पहले दिन आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता और वरिष्ठ नेता जैस्मीन शाह, रीना गुप्ता और नीरज पांडे ने संबोधित कर उनके दायित्यों के बारे में बताया। ये फेलोज दिल्ली और पंजाब में “आप” के फेमस मॉडल जैसे शिक्षा और स्वास्थ्य सुधार, मुफ्त पानी और बिजली नीति, इलेक्ट्रिक वाहन नीति आदि के पीछे के संघर्षों की वजह से आकर्षित हुए हैं।

युवाओं में दिखी देश को आगे बढ़ाने की उत्सुकता

ओरिएंटेशन के दौरान फेलोज को संबोधित करते हुए पंकज गुप्ता ने कहा कि इन फेलोज में वह लोग भी शामिल थे, जो पहले बैच में शामिल नहीं हो सके थे। इंटरव्यू के दौरान इन युवा लोगों में देश के कल्याण के लिए योगदान देने की उत्सुकता दिखाई दी। वहीं, जो लोग पहले बैच में नहीं आ सके थे, वह भी अब “आप” के विस्तृत परिवार का हिस्सा हैं।

AAP नेताओं ने की फेलोशिप में चयनित युवाओं की तारीफ

जैस्मीन शाह ने कहा कि हम चाहते हैं कि युवा भारत के विकास और सार्वजनिक कल्याण को आकार दें और उन्हें राष्ट्र निर्माण में योगदान करने के कौशलों से संपन्न करें। ये फेलोज प्रमुख रूप से विदेशी संस्थानों समेत प्रसिद्ध संगठन और विश्वविद्यालयों से आए हैं। इनमें ज्यादातर में राजनीतिक आकांक्षाएं हैं। इस बैच में कई राज्यों के लोग शामिल हैं, जो “आप” के विकास विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए उत्साहित हैं।

रीना गुप्ता ने कहा कि हमारे युवा इस देश के चुनौतियों के लिए अद्वितीय समाधान रखते हैं। राजनीति एकमात्र तरीका है, जिससे हम सामाजिक परिवर्तन को व्यापक स्तर पर ला सकते हैं। आज के युवा इस बात को समझते हैं और “आप” के भारत को नंबर-1 बनाने के इरादे के लिए दृष्टिकोण रखते हैं।

AAP प्रमुख केजरीवाल ने पिछले साल दिसंबर में की थी फेलोशिप की शुरूआत

इस फेलोशिप को “आप” के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले साल दिसंबर में घोषित किया था। इसका उद्देश्य भारत के राजनीतिक परिवर्तन में युवाओं को शामिल करना था। उन्होंने फेलोशिप के शुरू होने पर युवाओं से अपील की थी कि “आप” भारत के इतिहास में सबसे तेजी से बढ़ने वाली पार्टी है, क्योंकि यह ईमानदार और शिक्षित लोगों की पार्टी है। आप देश में कहीं भी रहते हैं, अगर आपके अंदर भारतीय राजनीति को बदलने और भारत को दुनिया का नंबर-1 देश बनाने की उत्साह है, तो यह फैलोशिप कार्यक्रम आपके लिए एक स्वर्णिम अवसर है।

चयनित फेलोज जमीन पर चलने वाले कैंपेन, मीडिया-संचार व शोध और डेटा विश्लेषण का करेंगे कार्य

इस 11 महीने के कार्यक्रम का उद्देश्य देश के युवाओं को योग्यताओं से संपन्न करना है, ताकि वह अपनी आवाज बुलंद कर सकें, अपनी समस्याओं के लिए समाधान खोज सकें और चुनाव का नजदीक से अनुभव सकें। ये फेलोज पार्टी के घोषणा पत्र, संचार रणनीति और देशभर में राजनीतिक प्रचार में पार्टी नेतृत्व के साथ काम करेंगे। यह फेलोशिप प्रभावी अनुभव और समान विचारधारा वाले लोगों के साथ नेटवर्किंग का अवसर प्रदान करेगी।

देश के युवाओं से आप की अपील

आम आदमी पार्टी ने फेलोज का स्वागत करते हुए कहा कि भारत का युवा एक ऐसे मोड़ पर खड़ा है, जो उन रास्तों को निर्धारित करेगी, जो आने वाली पीढ़ियों के लिए विकसित होंगे। इस महत्वपूर्ण संदर्भ में आगे आएं और अपनी प्रतिबद्धता का संदेश दें, जो 1 बिलियन से अधिक भारतीयों की आकांक्षाओं को प्रोत्साहित करता है और देश के हर कोने को महत्वपूर्ण आवाज देता है।

फेलोशिप के रूप में आपको विकास और सार्वजनिक कल्याण को आकार देने और सभी नागरिकों को शक्तिशाली बनाने के लिए मंत्रणा की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। यह फेलोशिप फेलोज की विशेषताओं को बढ़ावा देगी और कटिंग-एज राजनीतिक को रिसर्च करने और प्रोजेक्ट लीड करने की क्षमता को ताकत देगी। जिससे कि वह अपने शोध और तार्किक सोच के कौशल का उपयोग करके उन मुद्दों पर प्रभावशाली प्रचार करें जो आज उनके और राष्ट्र के लिए सबसे महत्वपूर्ण हैं।

ये भी पढ़ें- Bharat Ratna: भारत रत्न ऐलान के बाद लालकृष्ण आडवाणी ने जताया आभार, मीडिया से भी हुए रूबरू

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर एप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *