58th BSF Raising Day: अमृतसर में डीजी पंकज कुमार ने शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि , बताई जवानों की शूरवीरता

बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) का आज 58वां स्थापना दिवस है।  इस अवसर पर पंजाब के अमृतसर में राष्ट्रीय स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मिनिस्टर ऑफ होम अफेयर्स नित्यानंद राय मुख्यातिथि के रूप में पहुंचे हैं। इसके अलावा सांसद गुरजीत औजला और विधायक जसबीर सिंह भी मौजूद हुए। ये कार्यक्रम पंजाब की गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी में आयोजित किया गया कार्यक्रम की शुरुआत शहीदों को नमन करके की गई। BSF के स्थापना दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह ने ट्विट कर देश की सीमा पर जुटे जवानों को बधाई दी। वहीं  मृतसर में होने जा रही रेजिंग डे परेड में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे

सरहद पर 24 घंटे डटे जवानों से देश है आज सुरक्षित

BSF फोर्स की लगातार बार्डर पर  पहरेदारी आज देश की सुरक्षा को बनाए हुए है। बीएसएफ के 58वें स्थापना दिवस पर पंजाब के डीजी पंकज कुमार सिंह ने जानकारी दी कि पंजाब, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान, गुजरात के अलावा बंगलादेश बॉर्डर पर BSF के जवान मुस्तैद हैं। जो तस्करों, दुश्मन देशों का जवाब देने के लिए हरदम मजबूती से डटे रहते हैं। जिससे भारत पर कोई आंच ना आ सके, कोई भारत की तरफ आंख उठाने से पहले हजार बार सोचे कि भारत किसी से कमजोर नही है। इसके अलावा नकसली व आतंकी प्रभावित राज्यों में भी BSF अपना अतुल्य योगदान दे रहा है। इसके लिए BSF ने बीते दिनों कई लाइट वेट हेलीकाप्टर, प्लेन, बोट व शिप्स को अपने बेड़े में जोड़ा है। जिससे सीमा पर रक्षा कर रहें लोगों की ताकत और बढ़ गई है और वो दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब दे सकते हैं।

हाईटेक हो रहा BSF

डीजी पंकज सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि अब BSF लगातार हाईटेक हो रहा है। BSF ने बॉर्डर पर एंटी ड्रोन तकनीकों का प्रयोग करना शुरू कर दिया है। इसके अलावा नकसली व जम्मू-कश्मीर में पड़ोसी देशों के शरारती तत्वों द्वारा बनाई जाने वाली सुरंगों को रोकने के लिए एंटी टनल तकनीक जोड़ी जा चुकी है। इसके अलावा अब 160 चौकियों पर सौर ऊर्जा युक्त कर दिया गया है। वहीं सरहद पर अब एंटी ड्रोन तकनीकों का प्रयोग किया जा रहा है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *