Farmer Protest: मुआवजे की मांग पर बोले नरेन्द्र तोमर, किसानों की सभी मांगें पूरी हो गई, अब कोई विषय नहीं बचा

किसान आंदोलन को लेकर बोले नरेन्द्र तोमर

अब किसानों का कोई मुद्दा नहीं बचा- तोमर

नोएडा: शनिवार को ग्वालियर पहुंचे कृषि मंत्री नरेन्द्र तोमर ने कहा कि अब किसानों की सभी मांगें पूरी हो गई है. अब कोई विषय नहीं बचा है. कृषि सुधार कानूनों को वापस कर दिया गया है. MSP पर समिति बना दी गई है. इस दौरान कृषि मंत्री ने किसानों से अपील की है कि अब वह वापस सामान्य कामकाज पर लौटें. बता दे कि केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर पहुंचे थे. जहां उन्होंने मीडिया से बातचीत की और निजी कार्यक्रम में शामिल होकर आज दिल्ली के लिए रवाना हो गए.

खत्म नहीं होगा आंदोलन- SKM

दूसरी ओर, किसानों का कहना है कि सभी मांगे पूरी होने तक आंदोलन को समाप्त नहीं किया जाएगा. ये फैसला आंदोलन का नेतृत्व कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने सिंघु बॉर्डर पर हुई बैठक में लिया है. मोर्चा ने इसके साथ ही आगे की रणनीति और केंद्र सरकार से बातचीत करने के लिए पांच सदस्यों की समिति बनाई है. जिसमें बलबीर सिंह राजेवाल, गुरनाम चढ़ूनी, युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का और अशोक धावले को शामिल किया गया है. इस पांच सदस्यी समिति में राकेश टिकैत को शामिल नहीं किया है.

केन्द्र सरकार को दिया दो दिन का समय

किसानों का कहना है कि हमारी बची हुई मांगों को लेकर हमने केन्द्र सरकार को दो दिन का वक्त दिया है. केंद्र सरकार को किसानों पर दर्ज मामले लेने, न्यूनतम समर्थन मूल्य कानून की गांरटी, मुआवजे और बाकी मांगों के बारे में स्थिति स्पष्ट करने के लिए कहा गया है. SKM का कहना है कि 7 दिसंबर को मोर्चे की दोबारा बैठक होगी. किसान आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले 702 किसानों की सूची केंद्र सरकार को भेजी गई है. जिनके परिजनों के लिए मुआवजे की मांग की गई है. बता दें कि नरेंद्र सिंह तोमर ने संसद में कहा था कि उनके पास आंदोलन में मरने वाले लोगों की जानकारी नहीं है.

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.