Kanpur Murder Case : गोद ली हुई बेटी ने मां-बाप को उतारा मौत के घाट

लखनऊ । कानपुर की बर्रा-2 ईडब्ल्यूएस कॉलोनी में सोमवार देर रात गोद ली हुई बेटी ने प्रेमी संग मिलकर अपने माता-पिता की गला रेतकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद अपने भाई और पुलिस को गुमराह कर अज्ञात युवकों पर हत्या करने का आरोप लगाया। पुलिस ने साक्ष्यों के आधार पर मंगलवार दोपहर उसको हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो देर शाम उसने सच उगला। पुलिस का दावा है कि प्रॉपर्टी हथियाने के लिए माता-पिता की हत्या की।

मूलरूप से सरसौल के प्रेमपुर गांव निवासी मुन्ना लाल उत्तम (60) पत्नी राजदेवी (55) 26 साल के बेटे अनूप और गोद ली हुई बेटी कोमल (24) के साथ बर्रा दो ईडब्ल्यूएस कॉलोनी में रहते थे। छह माह पहल वह विजय नगर स्थित फील्ड गन फैक्टरी के सिक्योरिटी सुपरवाइजर पद से सेवानिवृत्त हुए थे। पुलिस के मुताबिक सोमवार रात एक से दो बजे के बीच कोमल ने दरवाजा खोलकर अपने प्रेमी रोहित को घर के भीतर दाखिल कराया। 

दोनों ने मिलकर मुन्ना लाल व राजेदवी को मारापीटा और फिर गला रेत दिया। उसके बाद रोहित वहां से निकल गया। रोहित के जाने के करीब दस मिनट बाद कोमल ने पहली मंजिल पर सो रहे भाई अनूप को माता-पिता की हत्या की जानकारी दी। तब अनूप ने पुलिस को बुलाया।

अनूप के अनुसार रात करीब ढाई बजे बहन उसके पास चीखती हुई पहुंची और बताया कि तीन लोग घर में घुस आए थे, जिन्होंने मम्मी-पापा की हत्या कर दी।

अनूप ने पड़ोसी विवेक के जरिये पुलिस को सूचना दिलाई। इस दौरान उसका सिर भारी भारी लग रहा था। कोमल ने पुलिस को बताया कि रात में उसने भाई के जूस में भी जहर मिलाया था लेकिन वह बच गया।

कोमल ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश भी खूब की। वारदात के बाद उसने अनूप की पत्नी के भाइयों पर हत्या का आरोप मढ़ दिया। पुलिस ने आननफानन पर दो पर नामजद रिपोर्ट भी दर्ज कर ली। ऐसा उसने इसलिए किया क्योंकि अनूप और उसकी पत्नी का विवाद चल रहा है। पुलिस अब उनके नाम एफआईआर से हटाएगी।

दंपती हत्याकांड में उनकी बेटी के खिलाफ पर्याप्त सुबूत हैं। उसी आधार पर उसको गिरफ्तार किया गया है। उसका प्रेमी फरार है। प्रॉपर्टी विवाद में वारदात को अंजाम दिया गया है। मामले में नामजद एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.