Advertisement

सुप्रीम कोर्ट: 5 नए जजों को CJI चंद्रचूड़ ने दिलाई शपथ

Share
Advertisement

सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को 5 नए जजों की नियुक्ति की गई है। चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया DY Chandrachood  ने आज 5 जजों को सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीश के रूप में शपथ दिलाई। इसके बाद अब सुप्रीम कोर्ट में जजों की संख्या कुल 32 हो गई है। सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार 4 फरवरी को ही जजों के नियुक्ति को मंजूरी दे दी थी। क़ानून मंत्री किरेन रिजिजू ने खुद ट्विटर पर इसकी जानकारी सांझा की थी। रिजिजू ने टवीट् में लिखा “भारत के राष्ट्रपति ने हाई कोर्ट के 5 जजों को सुप्रीम कोर्ट में नियुक्त किया है” उन्होंने टवीट् में नवनियुक्त जजों को शुभकामनाये भी दी।

Advertisement

इन जजों की हुई है नियुक्ति

जस्टिस असानुद्दीन अमानुल्लाह , जस्टिस पंकज मिथल, जस्टिस मनोज मिश्रा, जस्टिस संजय करोल, जस्टिस पीवी संजय कुमार ये 5 जज अब सुप्रीम कोर्ट में अपनी सेवाएं देंगे।

आइये जानते है जजों के बारे में

जस्टिस पंकज मित्तल:  राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हैं। मित्तल को साल 1985 में बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश में शामिल किया गया था। इससे पहले वह Jammu & Kashmir और Laddakh उच्च न्यायालय के चीफ जस्टिस थे। इससे पहले वह इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस थे।

जस्टिस संजय करोल: पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हैं। इससे पहले, उन्हें त्रिपुरा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के रूप में नियुक्त किया गया था। हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट में कार्यवाहक चीफ जस्टिस के तौर पर काम कर चुके हैं।

जस्टिस पीवी संजय कुमार: मणिपुर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस हैं। इससे पहले वह पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में जस्टिस थे। उन्होंने आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट में भी जस्टिस के रूप में काम किया है। संजय कुमार को अगस्त 1988 में आंध्र प्रदेश की बार काउंसिल के मेंबर के रूप में शामिल किया गया था।

जस्टिस अहसानुद्दीन अमानुल्लाह: पटना हाईकोर्ट के जस्टिस हैं। 2011 में पटना हाईकोर्ट में जस्टिस बनकर पहुंचे, फिर 2021 में उनका ट्रांसफर आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट में कर दिया गया। इसके बाद, उन्हें जून 2022 में दोबारा पटना हाईकोर्ट में भेजा गया। जस्टिस अमानुल्लाह को सितंबर 1991 में बिहार स्टेट बार काउंसिल में शामिल किया गया था।

जस्टिस मनोज मिश्रा: इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस हैं। उन्होंने साल 2011 में जस्टिस के रूप में शपथ ली थी। उन्होंने इलाहाबाद हाईकोर्ट के दीवानी, राजस्व, आपराधिक और संवैधानिक पक्षों में अभ्यास किया है।

ये भी पढ़े: MP News: पूर्व भाजपा नेता पवैया की बेटी को मिली तेजाब फेंकने की धमकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें