Advertisement

Bullet Train India पर रेलमंत्री का बड़ा अपडेट, कब से चलेगी और कहां-कहां रुकेगी?

Railway Minister's big update on Bullet Train India, when will it run and where will it stop?

Railway Minister's big update on Bullet Train India, when will it run and where will it stop?

Share
Advertisement

Bullet Train India : करोड़ों देशवासियों का बुलेट ट्रेन का सपना जल्द पूरा होने वाला है। हाल ही में, केंद्रीय रेल मंत्री अश्विणी वैष्‍णव ने खुले मंच से इसकी घोषणा कर दी है। उन्होंने बताया कि भारत में पहली बुलेट ट्रेन कब से शुरू होने वाली है?

Advertisement

उन्होंने कहा कि मात्र 2 साल में भारत में बुलेट ट्रेन एक वास्‍तविकता बन जाएगी। सरकार की तैयारियां तेजी से चल रही हैं और 2026 में बुलेट ट्रेन दौड़ना शुरू हो जाएगी। रेलमंत्री ने भारतीय रेलवे में आ रहे बदलावों की तरफ इशारा करते हुए बताया कि यात्रियों की सुरक्षा मोदी सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्‍य है। सबसे पहला लक्ष्‍य सुरक्षित यात्रा और बाद में सुविधाओं का विस्‍तार। उन्होंने बताया कि बुलेट ट्रेन के ट्रैक का 284 किलोमीटर काम पूरा हो चुका है। यह आंकड़ा 10-12 दिन पहले का है, जब उन्होंने रिव्‍यू किया था। दूसरे देशों में जहां बुलेट ट्रेन प्रोजेक्‍ट पूरा होने में 20 साल लग जाते हैं, लेकिन आप भारत में देखिए।

किन शहरों से होकर जाएगी बुलेट ट्रेन?

रेल मंत्री अश्विणी वैष्‍णव ने कहा कि बुलेट ट्रेन शुरू होने के बाद भारत में सबसे मजबूत सिंगल इकनॉमिक जोन बन जाएगा। यह ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद तक जाएगी और इसके रूट पर मुंबई, ठाणे, वापी, सूरत, वडोदरा, आनंद और अहमदाबाद शहरों से लोग यात्रा कर पाएंगे। इन सब शहरों की इकोनॉमी एक सिंगल जोन से जुड़ जाएगी। व्यक्ति सुबह वडोदरा में नाश्ता करेगा और फिर ट्रेन पकड़कर एक घंटे में मुंबई पहुंच जाएगा। काम निपटाओ और शाम तक वापस लौटकर बच्चों के साथ खाना खाओ। इस तरह व्यक्ति परिवार और बिजनेस दोनों को पूरा समय दे पाएगा।

अश्विणी वैष्‍णव ने कहा कि मोदी सरकार का पूरा फोकस यात्रियों की सुरक्षा पर ही है। लक्ष्‍य रेल यात्रा को 100 परसेंट सुरक्षित बनाने का है। इसके लिए लगातार तकनीक अपडेट की जा रही हैं। सुरक्षा के लिए सबसे अहम तकनीक ऑटोमेशन ट्रेन प्रोटेक्‍शन का तेजी से विस्‍तार किया जा रहा है।

समुद्री सुरंग से होकर गुजरेगी बुलेट ट्रेन

मंत्री के मुताबिक, ट्रेन परियोजना 1.10 लाख करोड़ रुपये की अनुमानित लागत पर जापान की शिंकानसेन प्रौद्योगिकी को तैनात करेगी और परियोजना के लिए सेवाएं 2026 तक शुरू होने की उम्मीद है। इसके अलावा, परियोजना का लक्ष्य उच्च आवृत्ति वाली जन परिवहन प्रणाली बनाना है। रेल मंत्री ने कहा कि प्रस्ताव के मुताबिक बुलेट ट्रेन ठाणे से मुंबई पहुंचने के लिए समुद्री सुरंग से होकर गुजरेगी। समुद्री सुरंग का काम शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें-http://*एमपी में कांग्रेस उपाध्यक्ष लालचंद गुप्ता का इस्तीफा, बोले- अध्यक्ष के पास जाने पर देना पड़ता था परिचय*

पहली बार 2017 में घोषणा की गई, पहले हाई-स्पीड ट्रेन कॉरिडोर में बुलेट ट्रेनें मुंबई और अहमदाबाद के बीच 320 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेंगी।

Hindi khabar App- देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए l हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *