Advertisement

फिलिस्तीनियों का हो रहा हैं कत्लेआम : दानिश अली

Share
Advertisement

नई दिल्ली: इजरायल-हमास के बीच जंग विराम के प्रस्ताव पर वोटिंग में भारत ने भाग नहीं लिया। जिसे लेकर भारत की विपक्षी पार्टियों के नेता भारत सरकार पर हमलावर हैं। इस बीच, BSP सांसद ‘दानिश अली’ ने इस निर्णय पर नाराजगी जाहिर करते हुए अपने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि इजरायली सेना फिलिस्तीनियों का कत्लेआम कर रही है। और पूरा विश्व इसे एक एक्शन फिल्म की तरह देख रहा है।

Advertisement

मासूम बच्चों के कत्लेआम पर खुश हो रहे हैं

दानिश अली ने लिखा है कि बहुत सारे पत्थर दिल लोग तो मासूम बच्चों के कत्लेआम पर भी खुश हो रहे हैं। या लाशों की गिनती कर रहे हैं। मैंने कभी सोचा नहीं था कि भारत मजलूमों को उनके हाल पर छोड़ देगा। और उन जालिमों के साथ खड़ा नजर आएगा, जो हिंसा में आस्था रखते हैं। उनकी नजर में मासूम बच्चे, बेबस महिलाएं और बुजुर्ग सब उनके दुश्मन की तरह हैं। और ऐसा लगता है कि विश्व ने उन्हें सबको मिट्टी में मिला देने का लाइसेंस दे दिया है।

भारत के रुख से स्तब्ध हूं

बीएसपी सांसद दानिश अली ने लिखा कि मैं वास्तव में यह देखकर स्तब्ध रह गया कि भारत ने इस जंग के विराम के लिए वोटिंग में भाग ही नहीं लिया। गाजा में शांति लाने और फिलिस्तीनी बच्चों की जान बचाने में भारत एक बड़ी भूमिका निभाने का मौका खो दिया। हमारे देश की स्थापना सत्य और अहिंसा के सिद्धांतों पर हुई थी, वे मूल सिद्धांत जिनके लिए हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने जीवन का बलिदान दिया था। ये सिद्धांत भारतीय संविधान का आधार हैं। जो हमारी राष्ट्रीयता और विश्व में अद्वितीय पहचान को परिभाषित करते हैं। वे हमारे देश के नैतिक साहस का प्रतिनिधित्व करते हैं। जिसने अंतरराष्ट्रीय समुदाय के सदस्य के रूप में इसके कामों का मार्गदर्शन किया है।

यह भी पढ़े : Varanasi: मामूली विवाद से परेशान होकर एक महिला ने खुद पर पेट्रोल डालकर लगाई आग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें