Advertisement

मोदी सरकार ने ही दिया था शरद पवार को पद्म विभूषण : सुप्रिया सुले

Share
Advertisement

नई दिल्ली: NCP की नेता सुप्रिया सुले ने शुक्रवार को कहा कि यह प्रधानमंत्री मोदी की ही सरकार थी जिसने शरद पवार को कृषि क्षेत्र में उनके कार्य के लिए भारत का दूसरा सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्म विभूषण दिया था। सुप्रिया सुले का यह बयान तब सामने आया है जब पीएम मोदी ने किसानों के लिए एनसीपी संस्थापक शरद पवार के योगदान पर प्रश्न खड़े किए थे। बीते गुरुवार को शिरडी में अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने शरद पवार का नाम लिए बगैर कहा था कि महाराष्ट्र में कुछ लोगों ने सिर्फ किसानों के नाम पर राजनीति की है।

Advertisement

किसान बिचौलियों की दया पर जीवन जीते थे

पीएम मोदी ने कहा था कि महाराष्ट्र के एक वरिष्ठ नेता ने भारत के कृषि मंत्री के रूप में काम किया था। जिनका मैं व्यक्तिगत रूप से सम्मान करता हूं। किंतु, प्रश्न है कि उन्होंने किसानों के लिए क्या किया? सनद रहे कि जब केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार थी, तब शरद पवार ने कृषि मंत्री के रूप में काम किया था। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कि जब पवार केंद्रीय कृषि मंत्री थे, तब किसान बिचौलियों की दया पर जीवन जीते थे।

सुप्रिया सुले ने कहा कि जब भी पीएम मोदी महाराष्ट्र आते हैं, वे एनसीपी को भ्रष्ट पार्टी करार देते हैं। गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने पहले की तरह NCP को भ्रष्टाचार से नहीं जोड़ा। बारामती से सांसद सुप्रिया सुले ने कहा कि शरद पवार साहब को कृषि और राजनीति में उनके कार्य के लिए ही मोदी सरकार ने उन्हें पद्म विभूषण दिया था।

अजीत पवार को मंच छोड़ देना चाहिए था

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि राज्य के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को शिरडी में विरोध प्रदर्शन कर मंच छोड़ देना चाहिए था। या फिर प्रधानमंत्री मोदी को सही करना चाहिए था। जब पीएम मोदी ने कृषक समुदाय में शरद पवार के योगदान पर प्रश्न उठाया था।

यह भी पढे़ : CG Election: कोरिया पहुंचे रमन सिंह, बोले- ‘जनता का मूड भाजपा के पक्ष में स्पष्ट’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें