Advertisement

Jawad cyclone: आंध्र प्रदेश और ओडिशा पहुंचने से पहले कमजोर पड़ सकता है चक्रवात जवाद

Share
Advertisement

नोएडा: जवाद चक्रवात के कारण आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है. ओडिशा और आंध्र प्रदेश में रेड अलर्ट जारी किया गया है. जिसको लेकर केन्द्र सरकार पूरी तरह हालात पर नजर बनाए हुए है. पीएम नरेन्द्र मोदी ने लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए अधिकारियों को हर संभव उपाय करने का निर्देश दिया है.

Advertisement

मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि जवाद के कारण ओडिशा के पुरी तट पर 90 से 100 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चल सकती है जो 110 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है. इस बीच विशेष राहत आयुक्त पीके जेना ने कहा कि सरकार ने जिला अधिकारियों से कहा है कि गंजाम, खुर्दा, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा और कटक जिले के नियाली के प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों को निकाला जाए.

शुक्रवार को जेना ने कहा था कि चक्रवात बंगाल की खाड़ी से जाने से पहले पुरी जिले के आसपास टकरा सकता है. चक्रवात के पुरी तट पर पहुंचने तक वह कमजोर पड़ सकता है. मौसम विभाग का कहना है कि जवाद धीरे-धीरे कमजोर पड़ जाएगा. अगले 12 घंटों में उत्तर की ओर बढ़ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *