Jammu Kashmir: राहुल भट्ट की मौत के बाद कश्मीरी पंडित आक्रोशित, बीजेपी नेताओं को घेरकर किया चक्का जाम

गुरुवार को जम्मू-कश्मीर Jammu Kashmir में कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट Rahul Bhatt की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. राहुल भट्ट राजस्व

Share This News
kashmiri pandit protest

kashmiri pandit protest

गुरुवार को जम्मू-कश्मीर Jammu Kashmir में कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट Rahul Bhatt की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. राहुल भट्ट राजस्व विभाग में नौकरी कर रहे थे. राहुल भट्ट की मौत के बाद कश्मीरी पंडितों Kashmiri Pandit में भारी आक्रोश है. कश्मीरी पंडितों ने राहुल भट्ट की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए पहुंचे बीजेपी नेताओं BJP Leader का घेराव किया और जमकर विरोध भी किया. जम्मू-कश्मीर के ADGP मुकेश कुमार के अलावा कई बड़े पुलिस प्रशासनिक अधिकारी अंतिम यात्रा में शामिल हुए.

सड़क पर बैठे कश्मीरी पंडित

इस दौरान कश्मीरी पंडितों ने सड़क को जाम कर दिया और सड़क पर ही धरने पर बैठ गए. बता दे कि राजस्व अधिकारी राहुल भट्ट की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष रविंदर रैना और जम्मू कश्मीर के पूर्व डिप्टी सीएम कवींद्र गुप्ता पहुंचे थे. जहां पर उन्होंने नाराज कश्मीरी पंडितों का विरोध झेलना पड़ा.

मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

नाराज पंडितों ने केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ विरोध जताते हुए जोरदार नारेबाजी भी की. कश्मीरी पंडितों का कहना है कि मोदी सरकार में भी हमारे पर जुल्म किया जा रहा है और एक के बाद एक आतंकी हमले हो रहे हैं. अब कश्मीर का पंडित चुप बैठने वाला नहीं है बल्कि अपनी सुरक्षा के लिए सड़क पर उतरेगा.

अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शन

बता दे कि, गुरुवार को कश्मीरी पंडितों ने अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शन किया और हाथों में सलोगन लिखी तख्ती को लेकर सरकार से न्याय की मांग की है. कश्मीरी पंडितों ने केन्द्र सरकार से न्याय की गुहार लगाते हुए कहा कि या तो हमें सुरक्षा प्रदान की जाए नहीं, तो हमें भी हथियारों का लाइसेंस दिया जाए. जिससे हम घाटी में अपनी सुरक्षा कर सके.

Share This News

देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए हिंदी खबर होम पेज पर विजिट करें। आप हमें फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर भी फॉलो कर सकते हैं। लेटेस्ट खबरें देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें।


Leave a Reply

Your email address will not be published.