IND-PAK BORDER: भारत-पाकिस्तान सीमा पर हुआ बच्चे का जन्म, माता- पिता ने नाम रखा ‘बॉर्डर’

भारत पाक सीमा पर बच्चे का जन्म

बच्चे के माता पिता ने नाम रखा ‘बॉर्डर’

नोएडा: भारत घूमने आए पाकिस्तानी नागरिक सही दस्तावेज नहीं होने की वजह से अटारी बॉर्डर पर फंसे हुए है. इन पाकिस्तानी नागरिकों की संख्या 100 के आस पास बताई जा रही है. यह 2 महीनों से ज्यादा बॉर्डर पर फंसे हुए है. इसी बीच एक पाकिस्तानी दंपत्ति ने एक बच्चे को जन्म दिया. जिसका नाम माता-पिता ने बॉर्डर रखा है. बच्चे के माता-पिता निंबू बाई और बलम राम ने कहा कि उन्होंने अपने बच्चे का नाम बॉर्डर इसलिए रखा है क्योंकि वह भारत-पाक सीमा पर पैदा हुआ है.

2 दिसंबर को हुआ बच्चे का जन्म

आपको बता दे कि, निंबू बाई गर्भवती थी और 2 दिसंबर को उसे प्रसव पीड़ा होने लगी. पड़ोसी की महिलाएं निंबू बाई की मदद करने पहुंचीं. स्थानीय लोगों ने अन्य सहायता प्रदान करने के अलावा प्रसव के लिए मेडिकल सुविधाओं की भी व्यवस्था की.

लॉकडाउन से पहले आए थे भारत

बलम राम ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि वह अपने 98 साथियों के साथ लॉकडाउन से पहले अपने रिश्तेदारों से मिलने और और तीर्थ यात्रा के लिए भारत आए थे. वह अपने घर नहीं लौट सके क्योंकि उनके पास आवश्यक दस्तावेजों की कमी थी. इनमें 47 बच्चे भी शामिल हैं. जिनमें से 6 बच्चों का जन्म भारत में पैदा हुआ है और उनकी उम्र एक साल से भी कम है.

भारत में जन्मा ‘भारत’

इतना ही नहीं, एक अन्य दंपत्ति ने अपने बच्चे का नाम भारत रखा है क्योंकि, बच्चे का जन्म राजस्थान के जोधपुर में हुआ है. वह जोधपुर में अपने भाई से मिलने आया था लेकिन, दस्तावेजों के अभाव में वह पाकिस्तान नहीं लौट सका. यह सभी लोग अटारी बॉर्डर पर पार्किंग स्थल में तंबू लगाकर रहते है. सभी पाकिस्तानी नागरिकों ने पाकिस्तानी रेंजर से उन्हें स्वीकार करने की अपील की है. स्थानीय निवासी इन्हें कपड़ा, खाना और दवा उपलब्ध करा रहे है.

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.