Advertisement

कांग्रेस ने मंडल आयोग का किया था विरोध : अमित शाह

Share
Advertisement

Madhya Pradesh: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने अपने कई दशकों के शासन के दौरान अन्य पिछड़ा वर्ग की अनदेखी की। जो देश की आबादी का सबसे बड़ा हिस्सा है। एमपी के चंदेरी विधानसभा सीट पर भाजपा की एक रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने मंडल आयोग की रिपोर्ट को ठंडे बस्ते में डाल दिया था। 

Advertisement

कांग्रेस ने पिछड़ा वर्ग आयोग को नहीं दी मान्यता

अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने इसे कई वर्षों तक ठंडे बस्ते में डाल दिया। पूर्व पीएम राजीव गांधी ने मंडल आयोग के कार्यान्वयन का विरोध किया था। वहीं, पिछड़ा वर्ग आयोग को 70 सालों तक संवैधानिक मान्यता नहीं दी गई।

केंद्र सरकार में 27 ओबीसी मंत्री हैं

अमित शाह ने कहा कि यह मोदी सरकार ही थी, जिसने ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देकर इस समुदाय को सम्मान दिया। अमित शाह ने कहा कि केंद्र सरकार में 27 ओबीसी मंत्री हैं। बीजेपी के नेतृत्व वाले केंद्र सरकार ने नीट परीक्षा, मेडिकल पीजी, केंद्रीय और नवोदय विद्यालयों में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण दिया है। बीजेपी सरकार ने आईआईटी में ओबीसी छात्रों की 1 लाख रुपये तक की फीस भी माफ कर दी।

कांग्रेस बंद कर देगी ‘लाडली लक्ष्मी योजना’

शाह ने आरोप लगाया कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई, तो राज्य सरकार की ‘लाडली लक्ष्मी योजना’ बंद कर देगी। कांग्रेस की एमपी इकाई के अध्यक्ष और पार्टी के सीएम पद के चेहरे कमलनाथ पर हमला करते हुए अमित शाह ने कहा कि कमलनाथ कई घोटालों से जुड़े हुए हैं। मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को 230 सदस्यीय विधानसभा के लिए एक साथ सभी सीटों पर मतदान कराए जाएंगे। वहीं, मतगणना तीन दिसंबर को होगी।

यह भी पढ़ें – भगवान राम हमारे इतिहास, विरासत और संस्कृति के प्रतीक : नितिन गडकरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *