भारत पर दबाव बनाने की तैयारी में अमेरिका, आज पीएम मोदी से बाइडेन करेंगे बात

मोदी बाइडेन वर्चुअल बैठक

यूक्रेन और रूस में जारी युद्ध के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ वर्चुअल मीटिंग होगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मीटिंग में जो बाइडेन भारत पर रूस को लेकर कड़ा रुख अपनाने का दबाव डाल सकते हैं। व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में यह बात कही गई है।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने अपने बयान में कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और पीएम मोदी के बीच आज वर्चुअल बैठक होनी है। बैठक में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन इस बात का दबाव बनाएंगे कि भारत रूस द्वारा युक्रेन पर हमले को लेकर कड़ा रूख अपनाए।

अभी तक भारत का रूख तटस्थ

यूक्रेन पर रूस के हमले अभी भी लगातार जारी हैं। इस युद्ध पर कई स्तर की बैठकें संयुक्त राष्ट्र में हो चुकी है। युद्ध पर भारत ने तटस्थ रूख अपनाया हुआ है। इस वजह से अमेरिकी कि चिंता लगातार बढ़ती जा रही है। हाल के दिनों में दबे जुवान में अमेरिका के भारत को सख्त संदेश देने की भी कोशिश की गई।

अमेरिकी ने कई मौकों पर भारत से रूस के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने को कहा है। दूसरी तरफ रूस ने यूक्रेन युद्ध पर भारत के रूख की तारीफ की है। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव हाल ही में भारत दौरे पर आए थे। उन्होंने इस दौरान कहा था कि भारत ने पूरी स्थिति को बेहतर तरीके से समझा है।

बता दें कि यूएन में यूक्रेन युद्ध पर बैठक में भारत ने हिस्सा लिया है लेकिन वोटिंग के वक्त तटस्थ रहा है। रूस पर कड़ें प्रतिबंध के साथ यूएनएचआरसी से रूस के बाहर करने के मुद्दे पर भी भारत ने मामलों से खुद की दूरी बनाकर रखा है।

मोदी और बाइडेन की बैठक को लेकर जेन साकी ने कहा कि हमारी सरकारों, अर्थव्यवस्था और हमारे लोगों के बीच संबंधों को और मजबूत बनाने के लिए यह मीटिंग हो रही है। इसके बाद भारत और अमेरिका के बीच 2+2 मंत्रिस्तरीय बैठक होगी। इस बैठक में अमेरिका के तरफ से विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन और भारत के तरफ से विदेश मंत्री डॉ. सुब्रह्मण्यम जयशंकर और भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल होंगे।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.