मोदी सरकार का बड़ा फैसला, कैबिनेट विस्तार से पहले थावरचंद गहलोत को बनाया कर्नाटक का राज्यपाल

नई दिल्ली: केंद्रीय कैबिनेट का जल्द ही विस्तार होने वाला है। इसकी चर्चाएं जोरों पर हैं। केंद्रीय मंत्रिमंडल में विस्तार से पहले मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए केंद्रीय मंत्री थावर चंद्र गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल बना दिया है। इससे स्पष्ट है कि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर सरकार तेजी से काम कर रही है। माना जा रहा है कि अभी इस तरह के और भी फैसले केंद्र सरकार ले सकती है। दरअसल, मोदी कैबिनेट में कई नए नामों को शामिल किया जा सकता है।

बता दें कि केंद्रीय कैबिनेट के विस्तार की चर्चा के बीच बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कुछ सांसदों को फोन किया गया है और उनसे कहा गया है कि वह दिल्ली पहुंचकर मुलाकात करें। नड्डा के फोन कॉल के बाद कई नेताओं ने दिल्ली कूच किया है। हालांकि, फिलहाल जेपी नड्डा इस वक्त अपने गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में हैं, जो आज दोपहर के बाद दिल्ली लौट रहे हैं।

इन नेताओं को BJP अध्यक्ष ने किया है फोन

भारतीय जनता पार्टी के सांसद नारायण राणे और सर्वदानंद सोनेवाल भाजपा नेतृत्व के बुलावे पर दिल्ली पहुंच रहे हैं। केंद्रीय कैबिनेट विस्तार को लेकर महाराष्ट्र से नारायण राणे, कपिल पाटिल, डॉ भागवत कराड, रणजीत सिंह निंबालकर के नाम की चर्चा है।

सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार, इन्हें बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के दफ्तर से फोन आया है। इसके अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया भी आज दोपहर 3.30 बजे की फ्लाइट से इंदौर से दिल्ली रवाना होंगे। जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह भी दिल्ली रवाना हो चुके हैं। पशुपति पारस कल रात ही दिल्ली पहुंच गए हैं।

केंद्रीय कैबिनेट ये नए चेहरे हो सकते हैं शामिल

गौरतलब है कि मोदी कैबिनेट में कुछ सनए चेहरों को शामिल किया जाना है। इनमें ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बानंद सोनोवाल, सुशील मोदी या संजय जयसवाल, वरुण गांधी, दिलीप घोष, मीनाक्षी लेखी, लद्दाख़ के सांसद जमयांग सेरिंग नामग्याल, भूपेंद्र यादव, विनय सहस्त्रबुद्द्हे, बिजयंत पांडा जैसे अनेक बीजेपी नेताओं के नाम पर चर्चा हो रहा है। इनके अलावा अपना दल की अनुप्रिया पटेल और बीजेपी के दूसरे सहयोगी प्रवीण निषाद और जदयू के नेताओं के भी केंद्रीय कैबिनेट में शामिल होने बात भी की जा रही है।

दरअसल, आने वाले साल 2022 में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं , ऐसे में भाजपा केंद्रीय कैबिनेट में ज्यादातर उत्तर प्रदेश के नेताओं को शामिल करने की तैयारी में है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.