Advertisement

मार्च के महीने में गर्मी से हुआ बुरा हाल, चल रही है भयंकर लू, जानें कैसे बचें

लू से कैसे बचें
Share
Advertisement

लू से कैसे बचें? मार्च के महीने में ही देश के कई राज्यों में 40 डिग्री से ज्यादा तापमान हो चुका है। कई राज्यों में लू चलने की खबरें आ रही हैं। मार्च में ही मई-जून महीने जैसी गर्मी का अहसास होने लगा है। अभी से घरों में एसी और कूलर चलाना शुरू कर दिया है लोगों ने। ऐसे में लू (Heatstroke) से बचना बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं कि इस भयंकर गर्मी में लू से कैसे बचें?

Advertisement

क्या होती है लू?

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, जब मैदानी इलाकों का अधिक्तम तामपान 40 डिग्री सेल्सियस तक और पहाड़ी क्षेत्रों का तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है तो लू चलने लगती है। अगर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है तो इसे खतरनाक लू की श्रेणी में रखा जाता है।

डॉक्टरों के मुताबिक, लू (Heatstroke) तब लगती है जब किसी व्यक्ति के शरीर का तापमान 40 डिग्री से अधिक हो जाता है। ऐसे में अधिक तापमान और आर्द्रता के कारण शरीर पसीने और सांस के जरिए खुद को ठंडा नहीं कर पाता है। इसे ही लू लगना कहते हैं।

लू (Heatstroke) लगने के बाद दिल की धड़कन तेज हो जाती है। सांस फूलने लगती है। चक्कर आने लगते हैं। पीड़ित को मांसपेशियों में ऐठन की शिकायत होने लगती है। अगर लू से इंसान बुरी तरह से झुलस जाए तो वह पूरी तरह से बेहोश भी हो सकता है। कई बार लू से मौत होने की भी संभावना रहती है।

लू से कौन-कौन प्रभावित होते हैं?

लू लगने की स्थिति में व्यक्ति के शरीर का तापमान बहुत अधिक हो जाता है। ऐसे में शरीर सही तरीके से काम नहीं कर पाता है। लू का सबसे ज्यादा प्रभाव बुजुर्ग व्यक्ति में देखने को मिलता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उम्र के साथ शरीर में खुद को ठंडा करने की क्षमता कम हो जाती है।

लू से कैसे बचें

लू (Heatstroke) आपको यदि लग जाए तो तुरंत ही इससे बचाव के तरीकों को अपनाना चाहिए। नियमित रूप से पानी पीते रहे। लू लगने की स्थिति में मीठे पेय पदार्थ और शराब पीने से बचें। ज्यादा से ज्यादा आराम करें। लू से बचाव के इन तरीकों को अपनाकर लू से खुद को बचा सकते हैं।

अधिक गर्मी में निकलने से बचें। यदि जरूरी हो निकलना तो सर पर कोई कपड़ा डाल लें या छाता लेकर निकलें। अपने पास ठंडा पानी अवश्य रखें। गर्मी के समय में प्याज का नियमित सेवन करना चाहिए। इससे लू से बचाव में मदद मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *