Bada Mangal 2022: आज है ज्येष्ठ का पहला बड़ा मंगल, आज लाल चीजें दान करने से बरसेगी हनुमान जी की कृपा

Bada Mangal 2022: संकटमोचन हनुमान जी का दिन आज यानि मंगलवार का होता है। इस दिन भक्त हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए अनेक उपाय करते हैं। आज भगवान हनुमान के लिए खास दिन है। क्योंकि ज्येष्ठ माह में पड़ने वाले मंगलवार यानि बड़ा मंगल पर बजरंग बली की विशेष पूजा की जाती है।

Share This News
Bada Mangal 2022

Bada Mangal 2022: संकटमोचन हनुमान जी का दिन आज यानि मंगलवार का होता है। इस दिन भक्त हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए अनेक उपाय करते हैं। आज भगवान हनुमान के लिए खास दिन है। क्योंकि ज्येष्ठ माह में पड़ने वाले मंगलवार यानि बड़ा मंगल पर बजरंग बली की विशेष पूजा की जाती है। आज के दिन सच्चे मन से हनुमान जी की पूजा-अर्चना करने से व्यक्ति के सभी कष्ट दूर होते हैं। बताते चलें कि ज्येष्ठ माह में हनुमान जी की पूजा का महत्व और बढ़ जाता है क्योंकि कहा जाता है कि इस दिन लाल चीजें दान करने से हनुमान जी की कृपा बरसती है।

आज है ज्येष्ठ का पहला बड़ा मंगल

ज्येष्ठ माह में पड़ने वाले मंगलवार यानि बड़े मंगल (Bada Mangal 2022) के दिन आज कई जगह भंडारे लगते हैं। साथ ही प्याउ लगाये जाते है और राहगीरों को पानी पिलाया जाता है। आज के दिन को बुढ़वा मंगल के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू धर्म में ज्येष्ठ मास का काफी महत्व होता है। ज्येष्ठ मास में भक्त हनुमान जी की विशेष तरीके से पूजा करते है। बड़ा मंगल के दिन कई जगहों पर लोग भंडारा करते हैं। ज्येष्ठ मास में गर्मी ज्यादा पड़ने के कारण इस दिन लोग राहगीरों को पानी या शरबत पिलाते हैं।

आज लाल चीजें दान करने से बरसेगी हनुमान जी की कृपा

इस साल ज्येष्ठ महीने में बड़े मंगल 5 पड़ रहे है। आज का पहला यानि 17 मई, दूसरा 24 मई, तीसरा 31 मई, चौथा 07 जून और पाचंवा और आखिरी 14 जून को बड़ा मंगल है। कई लोगों के मन में ये भी सवाल आता है कि बड़ा मंगल आखिर लोग क्यों मनाते है और इसका क्या महत्व होता है। कहा जाता है कि इस महीने में ही हनुमान जी का मिलन प्रभु राम से वन में हुआ था और इस माह में ही हनुमान जी ने भीम का घमंड तोड़ा था।

जब हनुमान जी ने तोड़ा था भीम का घमंड

साथ ही लखनऊ में बड़ा मंगल से जुड़ी दो मान्यताएं हैं। पहला यह कि एक व्यापारी ने हनुमान जी के समक्ष मन्नत मांगी थी कि उसका केसर एवं इत्र बिक जाएगा, तो वह उनके भव्य मंदिर का निर्माण कराएगा। नवाब वाजिद अली शाह ने उसका सारा इत्र और केसर खरीद लिया। मन्नत पूरी होने पर उस व्यापारी ने हनुमान जी का भव्य मंदिर बनवाया। उसी समय से ही लखनऊ में हर साल ज्येष्ठ माह के प्रत्येक मंगलवार को बड़ा मंगल मनाया जाता है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.