आम आदमी पार्टी और भाजपा की सरकारें यमुना के किनारे छठ पूजा पर्व आयोजित करने में जानबूझकर कर रही बाधा उत्पन्न: चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली: दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि पूर्वाचंल के लोगों के महापर्व छठ को यमुना घाटों पर अवरोध लगा कर सत्ताधारी भाजपा और आम आदमी पार्टी की सरकारें दिल्लीवासियों को भ्रमित करने की राजनीति कर रही है, जबकि अरविन्द केजरीवाल के गैर जिम्मेदाराना रवैये के कारण श्रद्धालुओं को यमुना के अमोनियां ग्रसित जहरीलें पानी में छठ पूजा की रस्म अदा करने को मजबूर होना पड़ रहा है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि पूर्व में कांग्रेस की दिल्ली सरकार के अनुरोध पर हरियाणा सरकार हर वर्ष छठ पर्व से 3-4 दिन पूर्व हथनी कुंड से पूर्व हथनी कुंड से पानी छोड़ती थी, जिसके बाद तमाम श्रद्धालु स्वच्छ जल में आस्था के महापर्व छठ पर सूर्य देवता को अर्क देते थे।

आगे उन्होनें कहा कि दिल्ली में पूर्वांचल के लोग अत्यधिक संख्या में निवासी है जिनकी धार्मिक आस्था और भावनाओं को नजरअंदाज करके दिल्ली सरकार अपने फैसले ले रही है, जिसका अनुसरण भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम पूर्वाचंलवासियों के अधिकारों के खिलाफ काम कर रहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार की भांति यदि केजरीवाल सरकार समय रहते छठ वर्तियों जिनमें विशेषकर पूर्वाचंलवासी अधिक है, उनके लिए सुविधाऐं मुहैया कराकर यमुना घाटों पर छठ पर्व मनाने की इजाजत दे देती तो आज पूर्वाचंल के लोगों के सामने छठ महापर्व के लिए असमंजस की स्थिति नही होती।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने छठ पर्व मनाने के लिए दिल्ली डिसास्टर मेनेजमेंट अथारिटी की बैठकों में जानबूझकर कमजोर पक्ष रखा जिसका नतीजा छठ को यमुना घाट पर अनुमति नही मिली और पूर्वाचंल के लोग भुगत रहे है। रिपोर्ट- कुलदीप

Share Via

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *