23 जनवरी को होगी TET की परीक्षा, CM योगी ने अधिकारियों को दिए निर्देश

TET की परीक्षा

लखनऊ: कोविड प्रबंधन हेतु गठित उच्चस्तरीय टीम-09 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक उम्र के 94.54% लोगों ने टीके की पहली डोज प्राप्त कर ली है, जबकि 60% से अधिक आबादी कोविड टीके की दोनों डोज ले चुकी है। प्रदेश में टीकाकरण की यह स्थिति राष्ट्रीय औसत से बेहतर है। विगत दिवस तक 15-17 आयु वर्ग के लगभग 42℅ किशोरों ने टीका कवर प्राप्त कर लिया है और 35% पात्र लोगों को प्री-कॉशन डोज भी मिल चुकी है।

ओमिक्रोन की तीव्रता को देखें तो उत्तर प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में: CM

सीएम बोले कोरोना के अब तक के रिकॉर्ड में एक दिन अधिकतम 38 हजार नए केस दर्ज किए गए थे। वहीं इस बार की लहर में एक दिन में अधिकतम 17 हजार केस आए हैं। ओमिक्रोन की तीव्रता और पॉजिटिविटी दर को देखें तो स्पष्ट होता है कि उत्तर प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है। बहुत कम संख्या में लोगों को अस्पताल की जरूरत पड़ रही है। सामान्य मरीज होम आइसोलेशन में रहकर चिकित्सक की सलाह से अपना इलाज कर सकता है। लोगों को इस संबंध में जागरूक किया जाना चाहिए।

अन्य अस्पताल नॉन कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध रहें: सीएम योगी

उन्होनें कहा कोविड की वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए प्रत्येक जिले में कम से कम एक बड़ा अस्पताल डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के रूप में आरक्षित किया जाए। इस बारे में जनसामान्य के बीच प्रचार-प्रसार भी होना चाहिए। अन्य अस्पताल नॉन कोविड मरीजों के लिए उपलब्ध रहें। ओपीडी सेवाओं को कोविड प्रोटोकॉल का साथ संचालित रखा जाना चाहिए।

23 जनवरी को प्रस्तावित टीईटी के व्यवस्थित आयोजन के संबंध में कर ली जाएं पुख्ता तैयारियां: सीएम

मुख्यमंत्री बोले ईएनए से भरे हुए दो ट्रक कल मेरठ जनपद में पकड़े गए हैं। चुनाव के दृष्टिगत ऐसी संभावना है इसका इस्तेमाल अवैध शराब बनाने में किया जाना था। यह प्रकरण गम्भीर है। ऐसे में एडीजी मेरठ की अध्यक्षता में एसआईटी गठित कर प्रकरण की गहन जांच कराई जाए। बारिश, ओलावृष्टि के कारण प्रभावित किसानों को तुरंत क्षतिपूर्ति कराई जाए। प्रभावित किसानों के साथ संवेदनशीलता बरती जाए। 23 जनवरी को प्रस्तावित शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के व्यवस्थित आयोजन के संबंध में पुख्ता तैयारियां कर ली जाएं। परीक्षा की सुचिता को प्रभावित करने अथवा युवाओं को दिग्भ्रमित करने की गतिविधियों में संलग्न/संदिग्ध अराजक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाए।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *