Advertisement

‘शहीद किसानों को मुआवजा और नौकरी नहीं देना मोदी सरकार की सबसे बड़ी भूल होगी’- राहुल गांधी

LokSabha TV

Share
Advertisement

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकसभा में अपनी बात रखते हुए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलन के दौरान हुई किसानों की मौत के मुआवजे की मांग की है। इसके साथ ही गांधी ने सदन में कहा है कि अगर मोदी सरकार किसानों के परिवारों को मुआवजा और सरकारी नौकरी नहीं देती है, तो ये सरकार की सबसे बड़ी गलती होगी।

Advertisement

लोकसभा में अपनी बात रखते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘’ किसान आंदोलन के दौरान 700 किसान शहीद हुए। प्रधानमंत्री ने देश और किसानों से माफ़ी मांगी। उन्होंने अपनी गलती स्वीकार की। लेकिन 30 नवंबर को एक सवाल के जवाब में कृषि मंत्री जी ने कहा कि मारे गए किसानों का कोई डेटा नहीं है।‘’

”हमने पता लगाया कि पंजाब सरकार ने 400 किसानों को 5 लाख का मुआवज़ा दिया है और इनमें से 152 किसानों को रोज़गार दिया गया है। इसके अलावा हमने हरियाणा के 70 किसानों की भी लिस्ट बनाई है और आपकी सरकार कहती है कि हमारे पास कोई नाम नहीं है। मैं ये नाम आज सदन को सौंप रहा हूँ।‘’

उन्होंने कहा, ‘मैं चाहता हूँ कि देश के अन्नदाता को उसका अधिकार मिले। उन्हें मुआवज़ा और नौकरी दी जाए।’

राहुल गांधी ने इसके बाद ट्वीट करके एक बार फिर सरकार को घेरने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ’सत्याग्रही शहीद किसानों के नाम पर मुआवज़ा ना देना,नौकरी ना देना और अन्नदाताओं के ख़िलाफ़ पुलिस केस वापस ना लेना बहुत बड़ी ग़लतियाँ होंगी। आख़िर पीएम कितनी बार माफ़ी माँगेंगे?‘

गौरतलब है कि शीत सत्र के दौरान ही सांसदों द्वारा उठाए गए सवाल के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा था कि सरकार के पास मारे गए किसानों का कोई डेटा नहीं है, इसलिए मुआवजा देने का कोई सवाल नहीं उठता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *