हिमाचल: कांग्रेस में अब सीएम चेहरे को लेकर बढ़ा सस्पेंस, आलाकमान के हाथ सौंपी जाएगी फैसले की रिपोर्ट

हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद कांग्रेस में अब इस बात को लेकर उथल-पुथल शुरू हो चुकी है कि हिमाचल में किसके सर पर ताज सजेगा, इसी को लेकर शिमला में विधायक दल की बैठक के बाद आज पार्टी के पर्यवेक्षक पार्टी आलाकमान को अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। हालांकि शुक्रवार को भी इसको लेकर कांग्रेस पर्यवेक्षक भूपेंद्र सिंह हुड्डा, भूपेश बघेल और प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला ने पार्टी के विधायकों के साथ मंथन किया लेकिन बात नहीं बन सकी। जिसके बाद विधायकों ने एक लाइन का प्रस्ताव पास करके ये फैसला हाईकमान को ऊपर सौंप दिया है।

वहीं मीटिंग में राजीव शुक्ला ने जनता के शुक्रियाअदा करके आभार व्यक्त किया और कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर खुशी है और हम प्रदेश की जनता को दी गई 10 गारंटियों को पूरा करने और बेहतर शासन देने के लिए सबकुछ करेगी। राजीव शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का सम्मान करती है। हालांकि इस दौरान उन्होंने राज्य की पहली महिला मुख्यमंत्री या शीर्ष पद का प्रतिनिधित्व हिमाचल के किसी नेता द्वारा किए जाने की संभावना से जुड़े सवालों को टाल दिया।

लेकिन प्रतिभा सिंह के समर्थकों ने पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षकों भूपेंद्र सिंह हुड्डा और भूपेश बघेल की गाड़ी रोककर उनके समर्थन में नारेबाजी की। वहीं पार्टी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि ये फैसला आलाकमान की रिपोर्ट के आधार पर लिया जाएगा कि कौन हिमाचल की सीएम कुर्सी पर विराजमान होगा और जो भी फैसला आलाकमान लेगा वो हमें स्वीकार होगा।

फिलहाल हिमाचल में सीएम पद को लेकर तीन लोग रेस में हैं कांग्रेस प्रमुख प्रतिभा सिंह, सुखविंदर सिंह सुक्खू और हरोली विधायक मुकेश अग्निहोत्री, जिसमें मुकेश अग्निहोत्री सबसे मजबूत दावेदार माने जा रहें हैं अब दोखना होगा कि कौन सीएम बनने के काबिल होगा और कौन हिमाचल की कुर्सी पर राज करेगा।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *