Advertisement

CharDham Yatra 2022: आज से शुरू हो रही है चारधाम यात्रा, यात्रियों की संख्या निर्धारित, जान लें ये नियम

Share

आज से चारधाम (CharDham) यात्रा की शुरुआत हो गई है। इस यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) ने गाईडलाइन भी जारी कर दी हैं।

CharDham Yatra 2022
Share
Advertisement

CharDham Yatra 2022: आज से चारधाम (CharDham) यात्रा की शुरुआत हो गई है। इस यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार (Uttarakhand Government) ने गाईडलाइन भी जारी कर दी हैं। 3 मई 2022 यानि आज गंगोत्री (Gangotri) और यमुनोत्री (Yamunotri) के कपाट खुल रहे हैं। वहीं 6 मई 2022 को बद्रीनाथ (Badrinath) और इसके बाद 8 मई को बाबा केदारनाथ (Kedarnath) के कपाट खुलेंगे।

Advertisement

आज से शुरू हो रही है चारधाम यात्रा

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस मौके पर कहा कि आज से चारधाम यात्रा (CharDham Yatra 2022) विधिवत रूप से शुरू हो रही है, मैं सभी श्रद्धालुओं का उत्तराखंड देवभूमि आगमन पर स्वागत करता हूं। ये यात्रा ऐतिहासिक हो, सबकी यात्रा सरल व सुगम हो, सबके मंगल की कामना करता हूं। वहीं CM ने आज फोन के माध्यम से यमुनोत्री धाम के मुख्य पुजारियों एवं वहां उपस्थित समस्त श्रद्धालुजनों को अक्षय तृतीया एवं यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के शुभ अवसर की शुभकामनाएं प्रेषित की। “हमारी सरकार सुगम एवं सुरक्षित चार धाम यात्रा हेतु वचनबद्ध है।”

यात्रियों की संख्या निर्धारित, जान लें ये नियम

बता दें कि चार धाम यात्रा करने से पहले उत्तराखंड सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देश जरुर जान लें।  गाइडलाइन के मुताबिक श्रद्धालु टूरिज्म विभाग के आधिकिरिक पोर्टल पर जाकर रजिस्ट्रशन करवा सकते हैं। यात्रा के लिए इस बार वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट ले जाना जरुरी नहीं है। साथ ही यात्री https://registrationandtouristcare.uk.gov.in/ पोर्टल पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

यात्रियों को करवाना होगा वाहन का फिटनेस चेक

साथ ही अगर कोई श्रद्धालु ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाए हैं तो ऑफलाइन मोड में भी रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। हालांकि इसके लिए उत्तराखंड सरकार द्वारा हरिद्वार, देहरादून, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी और चमोली में 24 सेंटर बनाए गए हैं। इसके अलावा यात्री अपने वाहन  से यात्रा करना चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें अलग से ग्रीन कार्ड और ट्रिप कार्ड बनवाने की जरूरत पड़ेगी। इसके तहत यात्रियों को वाहन का फिटनेस चेक करवाना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *