Advertisement

स्कूल में खेलते समय 16 साल की छात्रा को आया हार्ट अटैक, मौत के बाद, आंखें की दान

Share
Advertisement

आजकल के समय में हार्ट अटैक खतरा काफी ज्यादा बढ़ गया है। इंदौर में एक 16 साल की छात्रा स्कूल में दोस्तों के साथ खेल रहीं थी कि अचानक हार्ट अटैक आ गया और छोटी सी बच्ची इतनी कम उम्र में दुनिया को अलविदा कर दिया, लेकिन उसकी आंखे दूसरों की जिंदगी में रोशनी फैला गई है। दरअसल, छात्रा के परिवार वालों ने अपनी बेटी की सुंदर आंखे दान कर दी है।

Advertisement

आपको बता दें कि छात्रा वृंदा त्रिपाठी को वैसे कोई गंभीर बीमारी नहीं थी। वह स्कूल गई थी और स्कूल में दोस्तों के साथ खेल रही थी कि अचानक सीने में दर्द हुआ और वह बेहोश हो गई थी। स्कूल स्टॉफ छात्रा को अस्पतालल ले गए, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया और मौत की वजह हार्ट अटैक बताई।

बेटी की अचानक मौत हो जाने से परिवार सदमें है, लेकिन उन्होंने वृंदा की आंखे दान करने का निर्णय लिया। उन्होंने मुस्कान ग्रुप से संपर्क किया और ग्रुप के सेवादार जीतू बगानी, अनिल गोरे परिजनों से मिले और वृंदा की आंखे निकाल कर दूसरों की जिंदगी में रोशनी लाने के प्रयास शुरू कर दिए है। ग्रुप के सेवादार राजेंद्र माखिया, संदीपन आर्य और लक्की खत्री ने भी इस काम में समन्वय किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें