Advertisement

Uttarakhand: जोशीमठ आपदा प्रभावितों के पुनर्वास के लिए प्रस्ताव, बजट में किया जा रहा जोशीमठ के लिए खास प्रावधान

Share
Advertisement

Dehradun: जोशीमठ आपदा प्रभावितों के पुनर्वास के लिए धामी सरकार ने केंद्र से 2 हजार करोड़ रूपए के राहत पैकेज की मांग की है। सरकार की ओर से इसका प्रस्ताव प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दिया गया है। इसके साथ ही धामी सरकार बजट में जोशीमठ आपदा प्रभावितों के लिए विशेष व्यवस्था कर रही है।

Advertisement

भू धंसाव के कारण आपदा प्रभावित जोशीमठ के प्रभावितों के पुनर्वास के लिए केंद्र सरकार से 2000 करोड़ रुपये का राहत पैकेज मांगा गया है। धामी सरकार की ओर से इसका प्रस्ताव प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दिया गया है। इसके साथ ही आगामी वित्तीय वर्ष के लिए बजट में विशेष प्रावधान किया जा रहा है। प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक में चर्चा के बाद राहत पैकेज का प्रस्ताव पीएमओ को भेजे जाने पर सहमति बनी थी। इसके बाद ये प्रस्ताव आपदा प्रबंधन विभाग के जरिए केंद्र सरकार को भेज दिया गया है।

सचिव मुख्यमंत्री आर. मीनाक्षी सुंदरम ने बताया है कि जोशीमठ में भवनों का मुआवजा बांटा जा रहा है। इसके साथ ही केंद्र सरकार को 2000 करोड़ के राहत पैकेज का प्रस्ताव भी भेज दिया गया है।प्रस्ताव प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजा गया है। एनडीएमए ने भी जोशीमठ आपदा के कारणों की जांच कर रही एजेंसियों की रिपोर्ट भी फाइनल करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय को भेज दी है।

केंद्र सरकार से राहत पैकेज जल्दी जारी होने की उम्मीद में धामी सरकार ने आगामी वित्तीय वर्ष के लिए बजट में विशेष प्रावधान किए हैं। बजट में लगभग एक हजार करोड़ की धनराशि के प्रावधान किया जा रहा है जिससे जोशीमठ आपदा प्रभावितों के पुनर्वास के लिए जरूरी कामों को तेजी से पूरा किया जा सके।

ये भी पढ़ें: कड़े नियमों के साये में होगी चारधाम यात्रा, मंदिरों में मोबाइल, कैमरे पर लगेगा प्रतिबंध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें