Advertisement

Uttarakhand: उत्तराखंड में चारधाम यात्रा ने पकड़ी रफ्तार,पढ़ें पूरी खबर

Share
Advertisement

प्रदेश में चारधाम यात्रा ने रफ्तार पकड़ ली है। चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण का आंकड़ा 27 लाख पार कर गया है। केदारनाथ धाम के लिए सबसे अधिक साढ़े नौ लाख से श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। जबकि चारों धाम में अभी तक छह लाख से अधिक तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं।

Advertisement

प्रदेश में 22 अप्रैल से शुरू हुई चारधाम यात्रा में 4 मई तक मौसम की चुनौती बनी रही। बर्फबारी और बारिश के कारण कई बार यात्रा प्रभावित हुई। लेकिन मौसम साफ होते ही यात्रा ने पूरी रफ्तार पकड़ ली है। चारों धाम केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण का आंकड़ा 27 लाख पार कर गया है।

केदारनाथ धाम के लिए सबसे अधिक साढ़े नौ लाख से श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। फिलहाल मौसम के कारण यात्रा मार्ग की चुनौतियों को देखते हुए 15 मई तक केदारनाथ धाम की यात्रा के लिए पंजीकरण पर रोक है। हालांकि जो यात्री पहले पंजीकऱण करा चुके हैं उन्हें यात्रा की अनुमति दी गई है। बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के लिए पंजीकरण किए जा रहे हैं।  चारों धाम में अभी तक छह लाख से अधिक तीर्थयात्री दर्शन कर चुके हैं। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने यात्रा के दौरान सभी इंतजाम चौक चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं।

सीएम के निर्देश पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी सुगम सुरक्षित यात्रा संचालित करने में लगे हैं।चमोली पुलिस ने यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक यात्रा पर पूरी तरह से रोक लगा दी है। चमोली पुलिस प्रशासन ने यात्रियों से इससे पहले ही सुरक्षित पड़ाव पर पहुंचने की अपील की है जिससे उन्हें किसी असुविधा का सामना नहीं करना पड़े। पुलिस का कहना है कि यात्रियों की सुरक्षा के लिहाज से ये फैसला लिया गया है। आने वाले समय में यात्रा और जोर पकड़ेगी। जिसमें यात्रा को लेकर प्रशासन के सामने चुनौती भी बढ़ने वाली है।

ये भी पढ़ें:Uttarakhand: सीएम पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकारों के लिए कई प्रस्तावों को दिया अनुमोदन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें