Advertisement

Uttarakhand: देर रात अचानक भड़की आग, तीन मकान हुए राख

Share
Advertisement

Uttarakhand: जिला उत्तरकाशी स्थित बड़कोट में देर रात तहसील के राना गांव के तीन आवासीय मकानों में आग लग गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस और फायस सर्विस की टीम घटना स्थल पर पहुंची। और कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। आग की लपटें इतनी ज्यादा थीं कि मकानों में रखा सारा खाद्यान्न व घरेलू सामान जलकर खाक हो गया। गनीमत यह रही कि अग्निकांड में कोई जन व पशुहानि होने की कोई खबर नहीं है। 

Advertisement

मकानों में रखा खाद्यान्न व घरेलू सामान जलकर राख

बताते चलें कि विकास खंड नौगांव का राना गांव यमुनोत्री धाम से लगी गीठ पट्टी में स्थित है। जहां सोमवार रात करीब डेढ़ बजे गांव के बीचोंबीच अचानक आवासीय मकानों में आग भड़क उठी। और देखते ही देखते आग ने तीन मकानों को अपनी चपेट में ले लिया। इस दौरान गांव के लोगों ने आग बुझाने के लगातार प्रयास किए, इसके साथ ही घटना की सूचना पुलिस व फायर सर्विस को दी।

घटना की खबर मिलते हीं फायर सर्विस की टीम घटना स्थल के लिए फौरन रवाना हुई। और गांव वालों के साथ कड़ी मशक्कत कर किसी तरह आग पर काबू पाया। राहत की बात रही कि समय रहते आग को अन्य मकानों में फैलने से रोक लिया गया। हालांकि तब तक इन तीनों आवासीय मकानों में रखा खाद्यान्न व घरेलू सामान जलकर राख हो चुके थे।

यह भी पढ़ें: Gorakhpur : CM Yogi ने कहा- प्रदेश हुआ दंगा मुक्त, कहीं तेज लाउडस्पीकर बजे तो दें सूचना

मिली जानकारी के अनुसार अग्निकांड में गांव के राजेंद्र सिंह, सोवेंदर सिंह व भरत सिंह का मकान जल कर राख हो गया है। जबकि एक अन्य मकान भी आंशिक रुप से प्रभावित हुआ है। फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। हालांकि कुछ लोगों का कहना है कि शॉर्ट सर्किट भी आग लगने का कारण हो सकता है। मामले में गांव के मुकेश पंवार ने तहसील प्रशासन से क्षति का आंकलन कर प्रभावितों को उचित मुआवजा देने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *