Advertisement
Uttar Pradesh

UP: शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने राजनीतिक पार्टियों पर जमकर की कटाक्ष

Share
Advertisement

शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद नेआज प्रेस वार्ता का आयोजन किया। इस दौरान उन्होनें रामचरितमानस पर की गई टिप्पणी, काशी मथुरा विवाद, और बागेश्वर धाम में हो रहे चमत्कार,नित्यानंद के हिन्दू राष्ट्र बनाने पर उन्होंने खुलकर अपने बयान रखें। राजनीतिक पार्टियों पर भी जमकर कटाक्ष किया।

Advertisement

रामचरितमानस में स्वामी प्रसाद मौर्य द्वारा संशोधन कराने के सवाल पर कहा के यह कैसे तय होगा, और जिसने  लिखा होता है वही उसको संशोधन करने का अधिकार होता है, गोस्वामी तुलसीदास जी होते तो कुछ संशोधन होता वह तो अब है नहीं।

अगर स्वामी प्रसाद मौर्य को नहीं पढ़ना है तो उसे ना पड़े, और उसे संशोधन की बात करनी है तो अपने लोगों को बताते रहे, लेकिन रामचरितमानस को जलाने का अधिकार उन्हें नहीं है। अगर राजनीतिक धर्म ग्रंथों की भाषा नहीं समझते, तो राजनीति की भाषा समझे राजनीति की भाषा बहुमत होती है।

आज भी सर्वे करा लीजिए 99% लोग आज भी रामचरितमानस के पक्ष में है। आज भी भारत का सबसे ज्यादा पढ़े जाने वाला ग्रंथ रामचरितमानस है। तुम लोग बहुमत के बल पर सत्ता में आते हो और तुम इसको समझ नहीं।

चुनाव आयोग को इस पूरे मामले पर संज्ञान लेना चाहिए। हिंदू समाज को दो फाड़ करने की कोशिश हो रही है। जातियों में देश को बांटने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे राजनैतिक नेताओं पर चुनाव लड़ने की बंदिश लगा दे।

यह भारत की भावना के विपरीत कार्य कर रहे हैं ।जिसमें कहा गया है कि भारत एक संघ होगा, और यहां का हर नागरिक एक दूसरे से जुड़ा हुआ होगा । आप एक दूसरे के खिलाफ खड़ा कर रहे हो उन नेताओं को और उनकी पार्टियों को चुनाव लड़ने से रोक देना चाहिए।

स्वामी प्रसाद मौर्य को अगर कुछ ऐतराज है, तो उन शब्दों को न पड़े पैर के नीचे ग्रंथों को कुचलना और पढ़ने का अधिकार उन्हें किसने दिया। अगर उन्हें एतराज है तो अपना एतराज जहां दर्ज करा सकते हो वहां कराएं।

रिपोर्ट: प्रवेश

ये भी पढ़ें:UP: पशुओं का चारा लेने गई महिला की हत्या, गन्ने के खेत में पड़ा मिला शव

Recent Posts

Advertisement

दिव्यांगों के हित के लिए प्रतिबद्ध केजरीवाल सरकार, सुगमय सहायक योजना का शुभारंभ

Sugamya Sahayak Yojna: दिल्ली सरकार ने 28 फरवरी, बुधवार को सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एलिम्को…

February 28, 2024

Breaking News: आतंकवाद पर केंद्र सरकार का बड़ा प्रहार,जम्मू-कश्मीर के दो संगठनों पर लगाया प्रतिबंध

Jammu-Kashmir News: केंद्र सरकार ने आज बड़ा फैसला लिया है। मोदी सरकार ने आतंकी नेटवर्क…

February 28, 2024

लोकसभा चुनाव: नहीं बनाएगा किसी को साथी, बिहार में अकेला चलेगा ‘हाथी’

BSP Press Conference in Bihar:  जैसे-जैसे लोकसभा की रणभेरी बजने का वक्त करीब आ रहा…

February 28, 2024

कौन हैं प्रशांत बालकृष्णन नायर? जिनसे साउथ एक्ट्रेस ने गुपचुप रचाई शादी, अब किया खुलासा

Malayalam Actress Lena Husband: साल 2024 की शुरुआत में कई फिल्मी स्टार्स शादी के बंधन…

February 28, 2024

क्या है जेमिनी AI, जिसे लेकर विवाद में फंसी Google, CEO सुंदर पिचाई ने मांगी माफी

Sundar Pichai : गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा…

February 28, 2024

कार्यकर्ताओं के बीच भावुक हुए Kamal Nath, बोले- विदा करना चाहते हैं तो आपकी मर्जी…

Kamal Nath: कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश (MP) के पूर्व सीएम कमलनाथ के…

February 28, 2024

This website uses cookies.