Advertisement

UP News: अयोध्या में बदमाश अनीस का एनकाउंटर, सरयू एक्सप्रेस में महिला सिपाही पर किया था हमला

Share
Advertisement

थाना पूराकलंदर के छतरिवा पारा कैल मार्ग पर हुई मुठभेड़ में मुख्य आरोपी नसीम मर गया है। जबकि दो आरोपी विशंभर दयाल दुबे और आजाद खान घायल है.जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।

Advertisement

अयोध्या में 30 अगस्त को अयोध्या जंक्शन पहुंची सरयू एक्सप्रेस में खून से लथपथ मिली महिला हेड कांस्टेबल के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अनीस को ठिकाने लगा दिया है। बीते लगभग 20 दिन से पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बने इस मामले में अयोध्या पुलिस टीम ने यूपी एसटीएफ की मदद से मुख्य आरोपी अनीस को एनकाउंटर में मार गिराया है। वहीं इस वारदात में शामिल दो अन्य लोगों में विशंभर दयाल दुबे और आजाद खान को भी गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस द्वारा किए जा रहे दावे के मुताबिक एनकाउंटर के दौरान इन अपराधियों को पकड़ा गया है। जिसमें थाना पूरा कलंदर के थाना इंचार्ज रतन शर्मा को भी गोली लगी है। इसके अतिरिक्त दो अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। एनकाउंटर की करवाई जिले के दो थाना क्षेत्र में इनायत नगर और पूरा कलंदर में हुई है।

जिले के अलग-अलग दो थाना क्षेत्र में हुई है एनकाउंटर की कार्रवाई

थाना पूराकलंदर के छतरिवा पारा कैल मार्ग पर हुई मुठभेड़ में मुख्य आरोपी नसीम मर गया है। जबकि दो आरोपी विशंभर दयाल दुबे और आजाद खान घायल है। जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। एनकाउंटर की पहली कार्रवाई इनायतनगर थाना क्षेत्र में हुई है। जहां से विशंभर दयाल और आजाद खान को गिरफ्तार किया गया है। जबकि दूसरी कार्रवाई में पूरा कलंदर थाना क्षेत्र में हुई कार्रवाई के दौरान अनीस मारा गया है।

क्राइम सीन पर पुलिस को आरोपी का एक बैग और एक पिस्टल मिली है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अयोध्या राजकरण नैयर ने बताया कि एनकाउंटर में पकड़े गए सभी आरोपी घटना में शामिल थे इनके क्राइम रिकॉर्ड को भी कल जा रहा है। आपको बता दे की 30 अगस्त को मनकापुर से चलकर अयोध्या पहुंची सरयू एक्सप्रेस में एक महिला हेड कांस्टेबल बुरी तरह से जख्मी हालत में मिली थी जिनका इलाज अभी भी मेडिकल कॉलेज लखनऊ में चल रहा है।

यह भी पढ़े – Kannauj News: अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर पंचायत कर्मियों और सभासदों के बीच झड़प, मचा हड़कंप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *