Advertisement

Umesh Pal Murder: आरोपियों पर प्रशासन का शिकंजा, चला बुलडोजर

Share
Advertisement

Umesh Pal Murder: प्रयागराज में हुए उमेश पाल हत्याकांड (Umesh Pal murder case) को लेकर यूपी सरकार और प्रशासन मुस्तैद हैं। वारदात में शामिल फरार आरोपियों के खिलाफ प्रशासन आए दिन शिकंजा कसती नजर आ रही है।

Advertisement

गुलाम हसन के खिलाफ प्रशासन का शिकंजा Umesh Pal Murder

प्रयागराज में हुए उमेश पाल हत्याकांड को लेकर यूपी सरकार और प्रशासन मुस्तैद हैं। वारदात में शामिल फरार आरोपियों के खिलाफ प्रशासन आए दिन शिकंजा कसती नजर आ रही है। इसी कड़ी में अब प्रशासन ने फरार आरोपी गुलाम हसन का घर जमींदोज कर दिया है। बता दें कि गुलाम पर 5 लाख का इनाम रखा गया है। प्रयागराज विकास प्राधिकरण (Prayagraj Development Authority) ने मामले में कार्रवाई करते हुए गुलाम हसन के घर को ध्वस्त कर दिया। उमेश पाल की हत्या के बाद से अब तक अतीक अहमद के तीन करीबियों के अवैध निर्माण को ध्वस्त किया जा चुका है। अवैध निर्माण गिराने के लिए पीडीए की तरफ से 13 फरवरी को ध्वस्तीकरण का आदेश दिया गया था।

प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने की कार्रवाई Umesh Pal Murder

उमेश पाल हत्याकांड मामले में प्रयागराज प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। उमेश पाल की हत्या के बाद से फरार चल रहे शूटर गुलाम के घर पर बुलडोजर चलाया गया है। प्रयागराज विकास प्राधिकरण यह कार्रवाई की है। जानकारी के मुताबिक शूटर गुलाम हसम का अवैध मकान और दुकान 335 वर्ग मीटर में बना था। जिसे गिराने के लिए पीडीए के दो बुलडोजर लगाए गए थे। ध्वस्तीकरण के दौरान मौके पर भारी पुलिस बल भी तैनात की गई थी।

अतीक अहमद के करीबियों पर कार्रवाई

आपको बता दें कि उमेश पाल हत्याकांड के बाद से फरार शूटर गुलाम पर पांच लाख का इनाम है। गुलाम बीजेपी अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के पूर्व जिला अध्यक्ष राहिल हसन का भाई है। हत्याकांड के बाद से अतीक अहमद के खास शूटरों में से एक गुलाम की तलाश की जा रही है। बसपा के पूर्व विधायक राजू पाल हत्याकांड के गवाह उमेश की हत्या 24 फरवरी को की गई थी। हत्याकांड के बाद पुलिस एवं पीडीए ने अतीक अहमद के करीबियों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की थी।

ये भी पढ़े: Uttarakhand: कब्जाधारियों की खैर नहीं, दूसरे दिन भी कार्रवाई जारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *