Advertisement

Muzaffarnagar: नेशनल हाईवे पर गिरी तीन मंजिला इमारत, 2 की मौत, दर्जनों घायल

Muzaffarnagar: नेशनल हाईवे पर गिरी तीन मंजिला इमारत, 2 की मौत, दर्जनों घायल

Share
Advertisement

Muzaffarnagar: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में रविवार शाम को जानसठ कोतवाली क्षेत्र के तालड़ा गांव में नेशनल हाईवे 709 के किनारे 3 मंजिला इमारत भर भरा कर गिर गई. जिसके चलते इमारत में काम करने वाले लगभग दो दर्जन मजदूर दब गए. जबकि कई मजदूरों ने भाग कर अपनी जान बचा ली. वहीं घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस औऱ प्रशासनिक अधिकारी पहुंच गए.

Advertisement

हादसे में 2 मजदूर की हुई मौत

बता दें कि जिले के जानसठ कोतवाली क्षेत्र के तालड़ा गांव में नेशनल हाईवे 709 के किनारे 3 मंजिला इमारत भर भरा कर गिर गई. जिसके कारण इमारत में काम करने वाले लगभग दो दर्जन मजदूर दब गए. जबकि कई मजदूरों ने भाग कर अपनी जान बचा ली. वहीं पुलिस प्रशासन को लगी तो पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया जिसके बाद मामले की सूचना तत्काल दमकल विभाग को दी गई.

Muzaffarnagar: मौके पर पहुंची पुलिस

वहीं घटना की सूचना पर जिलाधिकारी अरविंद मल्लप्पा बंगारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक सिंह पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ-साथ भारी पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंचे गए. जिलाधिकारी और एसपीपी ने रेस्क्यू ऑपरेशन की कमान खुद संभाले रखी. जिसके बाद डीआईजी सहारनपुर भी मौके पर पहुंचे गए.

सीएम योगी ने जताया दुख

घटना इतनी भीषण और दर्दनाक थी कि जिसकी गूंज लखनऊ तक पहुंच गई, जिसमें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी घटना पर गहरा शोक जताया और अधिकारियों को जल्द से जल्द राहत और बचाव कार्य करने के निर्देश दिए.

Muzaffarnagar: राहत और बचाव कार्य लगातार जारी

बताया जा रहा है कि जानसठ के तालड़ा मोड के निकट मवाना निवासी एक व्यक्ति की पुरानी बिल्डिंग मार्केट है जो हाईवे के निर्माण के बाद गहरी में चली गई थी. जिसमें बिल्डिंग के मालिक ने बिल्डिंग को ऊपर उभरने के लिए ठेका दिया हुआ था और लगभग 7 दिन से इस बिल्डिंग को ऊपर उभरने का काम किया जा रहा था. जिसमें लगभग दो दर्जन मजदूर काम कर रहे थे. यह मजदूर जनपद रामपुर मुरादाबाद और बरेली के बताए जा रहे हैं.

फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है. जिलाधिकारी अरविंद मलकापा बंगारी ने बताया कि राहत और बचाव कार्य लगातार जारी है. पूरे मामले की जांच कराई जाएगी और जांच के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे इसी आधार पर कार्यवाही की जाएगी. फिलहाल मेरठ से एनडीआरफफ की टीम भी मौके पर पहुंच गई है. मौके पर दो दर्जन के लगभग एम्बुलेंस और बचाव कार्य के लिए जेसीबी फोकलेंड और हाइड्रा लगाएं गए हैं वहीं क्षेत्र वासियों का सहयोग भी लगातार जारी है.

रिपोर्ट- अरविंद चौधरी, मुजफ्फरनगर

ये भी पढ़ें- Letter To CJI: 21 पूर्व न्यायाधीशों ने CJI को लिखा पत्र, इन घटनाओं को लेकर जाहिर की चिंता

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *