Advertisement

Ram Mandir: प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए शुरू हुआ निमंत्रण पत्र का वितरण

Share
Advertisement

Ram Mandir: अयोध्या के राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए निमंत्रण पत्रों का वितरण शुरू हो गया है, समारोह 22 जनवरी, 2024 को होने वाला है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आधारशिला रखे जाने के तीन साल बाद, अयोध्या के राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तारीख 22 जनवरी, 2024 तय की गई है। अयोध्या के सरयू नदी के किनारे नवनिर्मित राम मंदिर में समारोह के निमंत्रण पत्र पुजारियों, दानदाताओं और कई राजनेताओं सहित 6,000 से अधिक मेहमानों को भेजे जा रहे हैं। बता दें कि राम मंदिर की आधारशिला अगस्त 2020 में मोदी ने रखी थी। देश भर के पुजारी और संत ही नहीं, बल्कि मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित देश के शीर्ष राजनेता भी 22 जनवरी को समारोह में भाग लेंगे।

Advertisement

Ram Mandir: आयोजित की जाएगी अखंड रामायण पाठ

राम मंदिर से जुड़े एक अधिकारी ने कहा कि राम मंदिर के भव्य उद्घाटन समारोह से पहले, उत्तर प्रदेश सरकार जनवरी 2024 में राज्य के प्रमुख मंदिरों में अखंड रामायण और हनुमान चालीसा का पाठ आयोजित करेगी। यह पाठ कार्यक्रम 14 से 22 जनवरी तक होंगे। राम मंदिर के भव्य अभिषेक समारोह की फिलहाल योजना बनाई जा रही है, और श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और राज्य सरकार द्वारा धार्मिक कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार की गई है। भगवान राम की मूर्ति 22 जनवरी को भव्य समारोह में राम मंदिर के अंदर स्थापित की जाएगी, उस दिन कई उत्सवों की योजना बनाई गई है।

Ram Mandir: कोर्ट के निर्णय के बाद खुला रास्ता

बता दें कि साल 2019 में अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने भव्य राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया। शीर्ष अदालत के फैसले के बाद, केंद्र ने मंदिर के निर्माण पर सभी निर्णय लेने के लिए श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की स्थापना की। नरेंद्र मोदी द्वारा मंदिर की आधारशिला रखने के बाद 5 अगस्त, 2020 को निर्माण शुरू हुआ। राम मंदिर की वास्तुकला 1988 में अहमदाबाद के सोमपुरा परिवार द्वारा तैयार किए गए डिजाइन पर आधारित है, जिसमें 2020 में कुछ बदलाव किए गए हैं।

ये भी पढ़ें- New Delhi: शीतकालीन सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक, कार्यवाही के दौरान अनुकूल माहौल बनाने की अपील

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *