Advertisement

Muzaffarnagar: 20 हजार की रिश्वत लेते लेखपाल रंगे हाथों गिरफ्तार

Share
Advertisement

पश्चिम उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में एक लेखपाल को रंगे हाथों 20 हजार की रिश्वत लेते एंटी करप्शन की टीम द्वारा गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है जमीनी मामले में लेखपाल पीड़ित किसान से मांग रहा था रिश्वत जिसकी शिकायत किसान द्वारा एंटी करप्शन टीम को की गई थी जिसके चलते एंटी करप्शन टीम द्वारा अपना जाल बिछाकर लेखपाल को धर दबोच लिया है देर रात्रि तक भोपा थाने में पकड़े गए लेखपाल के विरुद्ध मामला दर्ज कराने की तैयारी चल रही थी।

Advertisement

दरअसल पूरा मामला मुजफ्फरनगर जनपद के भोपा थाना क्षेत्र के गंगा खातर के गांव मजलिसपुर तोफिर का बताया जा रहा है। जहां एन्टी करप्शन की टीम ने जनपद बिजनोर की सदर तहसील में तैनात एंव चकबन्दी लेखपाल अहसान को मु0 नगर के किसान से 20 हजार रिश्वत लेते हुए रंगे हाथो गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है की लेखपाल अहसान कृषि भूमि के दाखिल खारिज के नाम पर पीड़ित किसान को काफी समय से टरका रहा था तथा लगातार रिश्वत की मांग कर रहा था जिसकी पीड़ित किसान द्वारा एन्टी करप्शन को शिकायत की गई थी। जिसके चलते भृष्टाचार व रिश्वत लेने की शिकायत पर पहुँची एंटी करप्शन टीम ने लेखपाल को रिश्वत लेते रंगेहाथ धर दबोच लिया। जिसके बाद एन्टी करप्शन टीम द्वारा आरोपी लेखपाल के खिलाफ भोपा थाना पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

वही भोपा थाना क्षेत्र के गाँव मजलिसपुर तोफीर निवासी पॉपीन ने बताया कि चार फरवरी 2015 को उसकी माता सुदेशना ने गाँव के जंगल की लगभग 11 बीघा कृषि भूमि को गाँव के ही बलजीत से खरीदा था। वही भूमि के विक्रेता के नाम के स्थान पर क्रेता सुदेशना का नाम भूमि में दर्ज होना था जिसके लिये क्षेत्रीय बन्दोबस्त लेखपाल की रिपोर्ट प्रस्तुत होनी थी। क्रेता सुदेशना का पुत्र पॉपीन भूमि की दाखिल खारिज के लिये वर्षों से क्षेत्रीय कार्यालय बिजनोर के चक्कर लगा रहा था। दाखिल खारिज का कार्य करने के नाम पर बन्दोबस्त के लेखपाल पर पॉपीन ने रिश्वत मांगने के आरोप लगाते हुए अपने रिश्तेदार सोनू सैनी से सम्पर्क किया।

सहारनपुर के नागल निवासी सोनू सैनी भगीरथ सेना का सुप्रीमो है सोनू द्वारा मुख्यमंत्री शिकायत पोर्टल पर लेखपाल अहसान की शिकायत की गयी थी। वही एन्टी करप्शन टीम ने शिकायतकर्ता पॉपीन के साथ योजनाबद्ध तरीके से कार्य करते हुए क्षेत्रीय बन्दोबस्त लेखपाल अहसान को रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है। भृष्टाचार निवारण संगठन के मण्डल प्रभारी सुभाष सिंह ने बताया कि मजलिसपुर तोफिर निवासी सुदेशना ने साढ़े ग्यारह बीघा भूमि गांव के बलजीत से खरीदी थी जिसके दाखिल खारिज के एवज में बन्दोबस्त अथवा सर्वे लेखपाल 20 हज़ार की रकम को रिश्वत के रूप में लेते हुए गिरफ्तार किया गया है आरोपी लेखपाल मौ.अहसान के खिलाफ थाना भोपा पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोपी बन्दोबस्त लेखपाल मौ.अहसन बिजनौर जिले के चाँदपुर का निवासी बताया जा रहा हैं। सीओ भोपा देवव्रत बाजपेई का कहना है कि देखिए एंटी करप्शन टीम द्वारा मजलिसपुर तोफीर से एक लेखपाल को गिरफ्तार किया गया है जो क्षेत्रीय किसान से 20000 की रिश्वत मांग रहा था एंटी करप्शन टीम द्वारा भोपा थाने पर मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है जो भी कार्रवाई आगे की जाएगी उनकी टीम के द्वारा ही की जाएगी।

ये भी पढ़ें: Jalaun: अपराधियों पर गरज रहा यूपी का बुल्डोजर, 173 अपराधी पहुंचें सलाखों के पीछे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *