Advertisement

Akhilesh Yadav On Pran Pratishtha Invitation राम बुलाएंगे तो जाएंगे

Akhilesh Yadav On Pran Pratishtha Invitation

Akhilesh Yadav On Pran Pratishtha Invitation

Share
Advertisement

Akhilesh Yadav On Pran Pratishtha Invitation

Advertisement

बीजेपी पर अक्सर धर्म और राममंदिर के नाम पर राजनीति करने के आरोप लगाए जाते हैं, पर ध्यान देने वाली बात यह है कि विपक्षी दल भी वक्त आने पर अपनी सहूलियत के हिसाब से इसका इस्तेमाल कर ही लेते हैं। पूर्व यूपी सीएम और सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के हाल ही में आए बयान को सुनकर तो ऐसा ही महसूस हो रहा जैसे वे राम मंदिर जाने के सवाल का जवाब भी बड़ी चालाकी से राम पर ही डाल रहे हैं।

भगवान का बुलावा कब-किसको आ जाए, कोई कह नहीं सकता

दरअसल, अखिलेश यादव सपा के महिला सभा की बैठक में शामिल हुए थे। जहां उनसे अयोध्या राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा निमंत्रण Akhilesh Yadav On Pran Pratishtha Invitation के बारे में सवाल किया गया। जिसपर सपा प्रमुख ने कहा कि “मेरा मानना है कि बिना भगवान की इच्छा के कोई दर्शन नहीं करने जा सकता। बिना उनके इच्छा के कोई दर्शन नहीं कर पाता और भगवान का बुलावा कब-किसको आ जाए, कोई कह नहीं सकता।”

ये भी पढ़ें: Cm Yogi Ayodhya Visit मंदिर निर्माण कार्यों का लेंगे जायजा

सपा हर धर्म का सम्मान करती है

अखिलेश यादव से स्वामी प्रसाद मौर्य को भी लेकर सवाल पूछे गए। जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि “बीजेपी वालों को बताना चाहिए कि स्वामी प्रसाद मौर्य जब बीजेपी में थे तब क्या बोलते थे। सपा हर धर्म का सम्मान करती है जो धर्म जैसा है वैसे ही स्वीकार करती है, लेकिन यह सवाल बीजेपी वालों से पूछना चाहिए कि जब उनके दल में थे तब वह ऐसा क्यों नहीं बोलते थे।

सपा नेता की बातें सुनकर तो ऐसा ही लगता है जैसे वे दोनों ही धर्मों के लोगों को नाराज नहीं करना चाहते। राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में जाने की बात कह कर मुस्लिमों को और न जाने की बात स्पष्ट करके हिन्दुओं को।

Follow us on: https://www.facebook.com/HKUPUK

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *