Advertisement

Rajasthan: राजस्व मंत्री ने CM गहलोत को बताया लोक देवता, कहा- उन्हीं से चल रही आजीविका

Share
Advertisement

Rajasthan: सीएम अशोक गहलोत को अब तक जादूगर के रूप में भी पहचाना जाता रहा है। राजनीतिक दांव-पेंच की वजह से लोग उन्हें पॉलिटिक्स का जादूगर कहते हैं। लेकिन उन्हीं के कैबिनेट के एक मंत्री ने अब जादूगर से भी बड़ी संज्ञा दे डाली है। हम बात कर रहे हैं राजस्व मंत्री रामलाल जाट की। मुख्यमंत्री के भीलवाड़ा दौरे पर एक कार्यक्रम में मंत्री ने उन्हें लोक देवता करार दिया है। जनसभा में मंत्री ने लोक देवता तेजाजी, रामदेवजी और देवनारायणजी की तरह गहलोत को भी लोकदेवता बताया। फिर लोकदेवता के रूप में ही परिचय कराते हुए पहले मुख्यमंत्री को संबोधन के लिए आमंत्रित किया। रामलाल जाट के लोकदेवता वाले भाषण का एक वीडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है।

Advertisement

राजस्व मंत्री ने जमकर की सीएम की तारीफ

राजस्व मंत्री ने अपने संबोधन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े। उन्होंने कहा ‘राजस्थान में पहली बार हमारे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 90% बजट को धरातल पर उतारा है। ऐसे हमारे लोक देवता जैसे हमारे तेजाजी महाराज, देवनारायण जी ने अवतार लिया था। उसी तरह आज के कलयुग में किसान, मजदूर, विधवा और विकलांग तमाम भाइयों के लिए, व्यापारियों के लिए, छोटे दुकानदारों के लिए एक अवतार के रूप में कांग्रेस पार्टी ने आदरणीय अशोक गहलोत को हमारे बीच में भेजा है। उन्हीं की बदौलत आज इनकी आजीविका चल रही है।’

सीएम गहलोत को बताया लोक देवता

गहलोत कैबिनेट में राजस्व मंत्री रामलाल जाट ने अपने भाषण में मुख्यमंत्री में जमकर तारीफ की। लोक देवता बताया। लेकिन वो अपने भाषण के बाद भी नहीं रुके। गोविंद सिंह डोटासरा और कांग्रेस के प्रभारी महासचिव सुखविंदर सिंह रंधावा के भाषण के बाद रामलाल जाट फिर से मंच पर आए। अशोक गहलोत को भाषण के लिए बुलाते समय एक और बार कहा, ‘अब मैं आपके बीच में उस आदमी, उस लोक देवता को बुला रहा हूं जो इस कलयुग में हर घर में साल भर में 70000 रुपए का फायदा देता है। आदरणीय अशोक गहलोत पधारे इस सभा को संबोधित करें।’

ये भी पढ़ें: जब लाल डायरी में कुछ नहीं था तो कांग्रेस मंत्री को क्यों सस्पेंड किया गया: अरुण चतुर्वेदी (बीजेपी)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *