Advertisement

 भीलवाड़ा में किसान सम्मेलन करेंगे खरगे, गहलोत और पायलट देंगे एकजुटता का संदेश

 भीलवाड़ा में किसान सम्मेलन करेंगे खरगे, गहलोत और पायलट देंगे एकजुटता का संदेश

 भीलवाड़ा में किसान सम्मेलन करेंगे खरगे, गहलोत और पायलट देंगे एकजुटता का संदेश

Share
Advertisement

 कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और सीएम अशोक गहलोत आज राजस्थान के भीलवाड़ा में किसानों को साधने के लिए बड़ी जनसभा कर रहे हैं। साथ ही वे दूध उत्पादक संघ की विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी करेंगे।

Advertisement

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव और प्रवक्ता स्वर्णिम चतुर्वेदी ने बताया कि, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे अध्यक्ष पद पर अपने निर्वाचन के बाद पहली बार राजस्थान आ रहे हैं। खरगे प्रदेश में कांग्रेस कमेटी के आग्रह पर आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि खरगे एनएच-48, गुलाबपुरा, भीलवाड़ा में विशाल किसान सम्मेलन को सम्बोधित करेंगे। जिसमें बड़ी संख्या में किसान और कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता भाग लेंगे।

सम्मेलन में मौजूद रहेंगे ये नेता


सम्मेलन को राजस्थान कांग्रेस प्रभारी सुखजिन्दर सिंह रंधावा, राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राजस्व मंत्री रामलाल जाट, सहप्रभारी काजी निजामुद्दीन, अमृता धवन और वीरेन्द्र सिंह राठौड़ भी संबोधित करेंगे। गोविंद सिंह डोटासरा ने प्रदेश की सभी जिला कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षों, ब्लॉक कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षों, मण्डल कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षों, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों, पार्टी विधायकों, विधायक प्रत्याशियों, सांसद, सांसद प्रत्याशियों, एआईसीसी और पीसीसी सदस्यों को निर्देश दिया है कि वे ज़्यादा से ज़्यादा संख्या में साथियों सहित सम्मेलन में शामिल रहें।

25 सितंबर 2022 को आए थे खरगे


आपको बता दें कि इससे पहले मल्लिकार्जुन खरगे प्रदेश प्रभारी अजय माकन के साथ 25 सितंबर 2022 को राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के दूत बनकर आए थे। उस समय सीएम अशोक गहलोत के निवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई थी। सचिन पायलट के खिलाफ कांग्रेस सरकार के मंत्री और 80 से अधिक विधायक  संगठित हो गए थे। उन्होंने शांति धारीवाल के निवास पर पैरेलल विधायकों की बैठक बुलाई और जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष को सामूहिक इस्तीफे सौंप दिए थे, इस पर बड़ा बवाल मचा था।

यह भई पढ़ेंः

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *