Advertisement

Delhi: पंजाब के सीएम भगवंत मान का एनडीए पर तंज, बोले… 400 पार तो क्या, बेड़ा पार भी नहीं होगा

CM of Punjab

CM of Punjab

Share
Advertisement

CM of Punjab: दिल्ली के सीएम केजरीवाल की पीसी से पहले पार्टी कार्यालय में पंजाब के सीएम और आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान ने संबोधन किया. उस दौरान उन्होंने सीएम केजरीवाल की तारीफ करते हुए पार्टी की नीतियों के बारे में बताया. वहीं उन्होंने बीजेपी पर चुटकी ली.

Advertisement

पंजाब के सीएम भगवंत मान ने कहा, हमारे अरविंद केजरीवाल साहब जो देश के सबसे लोकप्रिय नेता, आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो हैं उनके साथ जो हुआ सबने देखा. उसी सिलसिले में यह पीसी रखी थी. लेकिन यह तो बहुत बडी रैली बन गई. दिल्ली के क्रांतिकारी लोगों का धन्यवाद जो संकट में हमारे साथ डटे रहे.

उन्होंने कहा, मैं जहां भी गया मैंने कहा था अरविंद केजरीवाल एक व्यक्ति नहीं सोच का नाम है. व्यक्ति गिरफ्तार हो सकता है, सोच नहीं. तानाशाही जो देश में फैल रही थी. मैं थी इसलिए कह रहा हूं क्यों कि क्योंकि अबकी बार 400 पार तो क्या बेड़ा पार भी नहीं हो रहा. आम आदमी पार्टी के दफ्तर में आज खुशी है क्योंकि हमारे नेता बाहर आ गए.

पंजाब के सीएम ने कहा,यहां से सौ मीटर दूर सन्नाटा छाया हुआ है. एक दूसरे से पूछ रहे हैं कि यह कैसे हो गया. दोस्तों अब हमारी जिम्मेदारी बढ़ गई है. क्योंकि चुनाव के अब केवल 20 दिन रह गए हैं. हमें 18 घंटे काम करना होगा. मेरे बत्तीस दांत हैं. मेरी बात सच हो जाती है. हमारा बब्बर शेर बाहर आया है. चार जून को तैयारी कर लीजिए. हमारे बिना केंद्र में सरकार नहीं बन पाएगी.

उन्होंने कहा, सबसे ज्यादा वफादारी संकट के समय में परखी जाती है. आप संकट के समय में हमारे साथ खड़े रहे. आपका साथ हमें थकने नहीं देता. केजरीवाल कुछ घंटे पहले आए और हमारे साथ हो लिए. आज पूर्व और दक्षिण दिल्ली में केजरीवाल एक बार फिर बैटिंग करने आ गए हैं. वो आउट नहीं हुए थे रिटायर्ड हर्ट हुआ थे. बल्ला वही पिच भी वहीं. आते ही काम पर लग गए. उन्होंने कहा मैं अपने लोगों से बात करना चाहता हूं.

उन्होंने कहा, मैं आपको पंजाब से खुशख़बरी दे रहा हूं. कि पंजाब में 13 लोकसभा सीटें है. पंजाब से बीजेपी और कांग्रेस का सूपड़ा साफ है. सारी सीटें आप को मिलेंगी. हमें संविधान बचाना है. भविष्य में जब किसी टेस्ट में पूछा जाएगा तो कि देश को तानाशाही से किसने बचाया तो इसका सही उत्तर अरविंद केजरीवाल और दिल्ली की दो करोड़ जनता होगा.  

भगवंत मान ने कहा, दरिया अपना रास्ता खुद बनाते हैं. मोदी जी ने गलत पंगा ले लिया. इन्होंने पहले लोगों का हाल जाना. पंजाब से लेकर दिल्ली की चिंता की. बीजेपी की भाषण की टोन बदल गई है. मैं पंजाब के सिर्फ दो साल के कामों पर वोट मांग रहा हूं. हमने बिजली पानी और किसानों के लिए काम किया है. 16 टोल प्लाजा बंद किए. नौकरियां दीं. प्राइवेट थर्मल प्लांट खरीदा. मोदी जी ने सब बेचा है. हम नाम की नहीं काम की राजनीति करते हैं.

उन्होंने कहा, शर्म की बात है कि विपक्ष में कोई बोलता था तो उसे उठा कर बाहर फेंक दों. दस साल बाद भी यदि पीएम को मंगलसूत्र के नाम पर वोट मांगना पड़े तो यह शर्म की बात है. कोई काम गिना दो. अस्पताल बनाया? नौकरी दी? नहीं. हिन्दी में तकरीबन साढ़े छह लाख शब्द हैं. पीएम के पास 10-12 ही शब्द हैं.. जैसे हिन्दुस्तान, पाकिस्तान, मुसलमान, कब्रिस्तान, श्मशान, मंगलसूत्र, गाय, भैंस, बकरी. उनकी डिक्शनरी में बेरोगजारी, गरीबी, शिक्षा इन्फ्रास्ट्रक्चर जैसे शब्द नहीं हैं. उन्होंने जनता से अपील की कि डिक्शनरी बदल दो. जिनकी डिक्शनरी में इलाज है, विकास है, शिक्षा है.. उनके साथ आइए.

यह भी पढ़ें: अपने लिए नहीं, अमित शाह के लिए वोट मांग रहे मोदी जी, दो महीने में बदल दिया जाएगा यूपी का CM- केजरीवाल

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *