धीरेंन्द्र शास्त्री ने खुद बताया फर्क कि कैसे मौलवियों-पादरियों से अलग हैं वे, आप भी जानें कैसे

Share

बागेश्वर धाम प्रमुख धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने ये कहा है कि वे मौलवियों और पादरियों से बहुत अलग है उन्होंने कहा है कि हम शोषण नही करते, किसी को डराते नहीं हैं, हम दंगा नहीं फैलाते, दक्षिणा नहीं लेते, जो भी चढ़ोतरी आती है उसें गरीबों बेटियों की  शादियां करवाते हैं, 2029 तक हम 400 बिस्तरों का कैंसर हॉस्पिटल बनवा रहे हैं। हम खुद लोगों को नहीं जोड़ते, हम तो बस श्रद्धा के नाम पर केवल बालाजी की महिमा गाते हैं।

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने ये सारी बाते एक टीवी चैनल के इटंरव्यू में कहीं है। जब शास्त्री से कांग्रेस नेता राहुल गांधी से जुड़ा एक सवाल पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि हमारे साथ आध्यात्म की बातें करें। राजनीति की कोई बात न करें। हम किसी एक पार्टी के आदमी नहीं हैं। बल्कि हर पार्टी के नेता बागेश्वार धाम से जुड़े हुए हैं। धीरेंद्र शास्त्री ने कहा कि मैं कोई चमत्कारी शख्स नहीं हूं। मैं जो कुछ करता हूं, ईश्वर मुझे आभास करा देते हैं।

जब धीरेंद्र से जान के खतरे पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि जो होना है वो तो होगा। लोग तो पीछे लगे हुए ही हैं। हमने पहले ही अपने खिलाफ होने वाले षड्यंत्र की भविष्यवाणी कर दी थी।

जब उनसे पूछा गया कि कोविड और आतंकवाद जैसी घटनाओं के बारे में वे पहले से क्यों नही बताते, तो उन्होंने कहा मैं कोई भविष्यवक्ता नही हूं जब कोई दरबार में अर्जी लगाता है तो उसके बाद मैं उस अर्जी पर ध्यान लगाता हूं फिर मुझे आभास होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *