Advertisement

Jharkhand: पोक्सों एक्ट पर सेमिनार का हुआ आयोजन, लैंगिक अपराध की रोकथाम पर चर्चा

Seminar organized on Jharkhand POCSO Act, discussion on sexual crimes in hindi news
Share
Advertisement

Jharkhand: दुमका के सभागार भवन में पोक्सों एक्ट पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन हुआ। सेमिनार में ज़िला स्तरीय सभी स्टेक होल्डर, न्यायिक पदाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी, बच्चों को संरक्षिण करने वाली चाईल्ड हेल्प लाईन समेत विभिन्न संस्था के सदस्य शामिल हुए। सेमिनार में आये दिन बच्चों से हो रहे लैंगिक अपराध पर रोकथाम, लैंगिक शिकार बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने और मिलने वाली सहायता पर चर्चा हुई। सेमिनार का आयोजन झालसा के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वाधान में आयोजित हुई।

Advertisement

सेमिनार का उद्देश्य

बता दें इस सेमिनार का उद्देश्य लैंगिक शिकार बच्चों के भविष्य को नई दिशा दिखाना था। सेमिनार का उद्घाटन ज़िला जज प्रथम, रमेश चंद्रा, डालसा सचिव, उत्तम सागर राणा, मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी, विश्वनाथ भगत, पुलिस उपाधीक्षक, विजय कुमार, जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष निशिकांत प्रसाद आदि ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्जवलित कर किया गया।

जागरुकता है जरुरी

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला जज ने कहा की बच्चों से हो रहे लैंगिक अपराध पर रोक लगाने के लिए पोक्सों के प्रावधानों का महत्व गांव के लोगों को बताना औऱ उन्हें जागरूकत करना बेहत जरुरी है क्योंकि रोकथाम जागरुकता से ही संभव हो सकता है। इसके बाद दुमका के पुलिस अधिक्षक ने कहा की बच्चों से हो रहे लैगिंक अपराध की रोकथाम के लिए सबसे जरुरी है की उनका भविष्य संरक्षित हो। हमारा ये उद्देश्य होना चाहिए कि हम सबसे पहले बच्चों का भविष्य संरक्षित करें।

ये भी पढ़ें- Jharkhand: वन विभाग को मिली बड़ी सफलता, लकड़ी से भरी 407 ट्रक जप्त, चालक और माफिया फरार

रिपोर्ट-सुतिब्रो गोस्वामी

Hindi Khabar App- देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरो को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिंदी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *