Advertisement

बीजेपी की नाकामी से प्रदेश के हजारों युवाओं की नौकरी पर लगा प्रश्न चिह्न: अनुराग ढांडा

Chandigarh News

आप नेता अनुराग ढांडा

Share
Advertisement

Chandigarh News: सुप्रीम कोर्ट द्वारा हरियाणा सरकार के नौकरियों में 5 नम्बर अतिरिक्त देने के फैसले को असंवैधानिक करार देने पर आम आदमी पार्टी  के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार के संविधान विरोधी फैसले से प्रदेश के हजारों युवाओं की नौकरी पर प्रश्न चिह्न लग गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश से बाहरी युवाओं को नौकरी देने के लिए बीजेपी 5 नम्बर अतिरिक्त देने का फार्मूला लेकर आई थी।

Advertisement

उन्होंने कहा कि बीजेपी को गरीब युवाओं से कोई मतलब नहीं रह गया है। आज सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने भी बीजेपी सरकार को कड़ी फटकार लगाई है। इससे प्रदेश के ग्रुप डी के करीब साढ़े 13 हजार, ग्रुप सी के करीब दो हजार पदों और ग्रुप 56 और 57 के करीब 12 हजार पदों पर तलवार लटक गई है। इनमें से ज्यादातर पदों पर युवा नौकरी ज्वाइन कर चुके थे। इसलिए बीजेपी सरकार के कारनामे की वजह से नौकरी ज्वाइन कर चुके युवाओं को गहरा आघात देने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पिछले 10 सालों में एक भी नौकरी भर्ती परीक्षा बिना विवादों के पूरी नहीं की है। प्रदेश में 25 लाख युवा बेरोजगार हैं। प्रदेश के कई जिलों से युवा विदेशों में पलायन कर चुके हैं। बीजेपी की नौकरी विरोधी नीतियों ने युवाओं को पथभ्रष्ट करने का काम किया है। बीजेपी के नेता और सीएम नायब सिंह सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद भी अपनी गलती मानने को तैयार नहीं हैं। वहीं केंद्र सरकार ने भी देश की प्रतिष्ठित परीक्षा लीक कर नए रिकॉर्ड कायम किए हैं।

उन्होंने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनावों में प्रदेश के युवा बीजेपी का सूपड़ा साफ करने का काम करेंगे। आम आदमी पार्टी प्रदेश में युवाओं की आवाज को मजबूत करने का काम करेगी। इस बार आम आदमी पार्टी प्रदेश में सरकार बनाने का काम करेगी। प्रदेश के खाली 2 लाख पदों को भरने का काम करेंगे।

रिपोर्टः अमित कुमार, संवाददाता, चंडीगढ़

यह भी पढ़ें: सांसदों ने की संविधान से लेकर NEET मुद्दे पर बात, चंद्रशेखर बोले… ये आवाज निष्पक्ष और कमजोरों के लिए

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *