Advertisement

NEET Exam Paper Leak : ‘हिन्दी ख़बर’ के सवाल पर बोले केंद्रीय शिक्षा मंत्री… ‘मैं नैतिक जिम्मेदारी लेता हूं’

NEET Exam Paper Leak

केंद्रीय शिक्षा मंत्री से सवाल पूछती 'हिन्दी ख़बर' की पत्रकार.

Share
Advertisement

NEET Exam Paper Leak : NEET Exam पेपर लीक मामले में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की. इस दौरान उन्होंने इस मामले से जुड़े पत्रकारों के कई सवालों का जवाब दिया और अपनी बात भी रखी. इस दौरान हिन्दी ख़बर की पत्रकार के सवाल पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि मैं नैतिक जिम्मेदारी लेता हूं.

Advertisement

‘हिन्दी ख़बर’ की पत्रकार समीक्षा ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से पूछा कि जब पेपर लीक हुआ, क्योंकि आज अनुराग यादव ने अपना कबूलनामा दिया और पेपर के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. बिहार में डबल इंजन की सरकार है तो फिर आखिर कॉर्डिनेशन में क्या कमी रह गई. आप कहते हैं कि हम आश्वसत करते हैं कि छात्रों के हितों की रक्षा की जाएगी. लेकिन विश्वसनीयता कैसे आएगी. इस बात की क्या गारंटी है कि इससे पहले इस तरह की धांधली नहीं हुई है. क्योंकि अब सामने गया. अब से पहले कभी सामने नहीं आया. अब कहीं न कहीं विश्वसनीयता कैसे आएगी.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि देखिए इसकी नैतिक जिम्मेदारी तो मैं लेता ही हूं. देश के भविष्य को सुरक्षित करना पड़ेगा. गुणवत्ता और पारदर्शिता को मेंटेन करना पड़ेगा. लाखों गरीब विद्यार्थियों की मेहनत को सम्मान करना पड़ेगा. बिहार और भारत सरकार का कॉर्डिनेशन व्यवस्थित था. कुछ विसंगतियां हमारे ध्यान में आई हैं इसलिए मैंने कहा कि सभी प्रक्रिया पूर्ण होने के इस चक्र में जो भी जिम्मेदार होगा उसको छोड़ा नहीं जाएगा.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सरकार छात्रों के हितों को सुरक्षित करने के लिए प्रतिबद्ध है. छात्रों का हित हमारी प्राथमिकता है और उसके साथ किसी भी कीमत पर समझौता नहीं होगा…NEET परीक्षा के संबंध में हम बिहार सरकार के साथ लगातार संपर्क में है और पटना से हमारे पास कुछ जानकारी भी आ रही है.

उन्होंने कहा पटना पुलिस जांच कर रही है. वो डिटेल रिपोर्ट जल्द ही भारत सरकार को भेजेंगे. मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं की पुख्ता जानकारी आने पर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, सरकार एक उच्च स्तरीय समिति बनाने जा रही है। उस उच्च स्तरीय समिति से NTA, इसकी संरचना, कार्यप्रणाली, परीक्षा प्रक्रिया, पारदर्शिता और डेटा सुरक्षा प्रोटोकॉल को और बेहतर बनाने के लिए सिफारिशें अपेक्षित रहेंगी.

उन्होंने कहा सभी से मेरा अनुरोध है कि किसी भी तरह की अफवाह मत फैलाएं. राजनीति की दृष्टि से मत देंखें. किसी भी सुधार के लिए हम तैयार हैं. किसी भी गुनहगार को नहीं छोड़ेंगे. मैं कहना चाहूंगा कि लाखों विद्यार्थी जो परीक्षा में पास हुए हैं, उनके भी हितों का हमें ध्यान रखना है. पटना पुलिस ने बहुत अच्छा काम किया है. कुछ जानकारी और भी आनी है. हम उनकी जांच से संतुष्ट हैं. केंद्र सरकार के अधिकारी और बिहार पुलिस के अधिकारी लगातार बात कर रहे हैं. मेधावी विद्यार्थियों के हितों की बात है, इसलिए हम कुछ ऐसा न करें, जिससे लाखों गरीब और मेधावी विद्यार्थियों का भविष्य खतरे में आ जाए.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के ‘सभी बड़े शिक्षण संस्थानों में बीजेपी और संघ के लोग बैठे हैं’ वाले बयान के संबंध में उन्होंने कहा  इस मामले में राजनीति न करें. सिस्टम और लोकतंत्र पर भरोसा रखें. हमारी सरकार पारदर्शिता के लिए प्रतिबद्ध है.

यह भी पढ़ें Breaking News: दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को राउज एवेन्यू कोर्ट ने दी जमानत

Hindi Khabar App: देश, राजनीति, टेक, बॉलीवुड, राष्ट्र,  बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल, ऑटो से जुड़ी ख़बरों को मोबाइल पर पढ़ने के लिए हमारे ऐप को प्ले स्टोर से डाउनलोड कीजिए. हिन्दी ख़बर ऐप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *