Advertisement

जंतर-मंतर खाली कराए जाने पर क्या करेंगे पहलवान? विनेश, साक्षी और बजरंग से जानें  

Vinesh, Sakshi and Bajrang

Vinesh, Sakshi and Bajrang

Share
Advertisement

बीते रविवार को महिला पहलवानों ने नए संसद भवन के सामने महापंचायत करने का फैसला किया। लेकिन पुलिस ने इजाजत नहीं दी थी। इसके बाद जंतर-मंतर पर भारी सुरक्षाबल तैनात कर बैरिकेडिंग लगा दी गई। रविवार को पहलवानों ने नए संसद भवन से 3 किलोमीटर दूर जंतर- मंतर से मार्च शुरु किया। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। पहलवान सुरक्षा घेरे को तोड़कर आगे बढ़ रहे थे इस दौरान पुलिस और पहलवानों के बीच धक्का- मुक्की और हाथापाई हुई।

Advertisement

जंतर – मंतर पर जमकर बवाल हुआ WFI चीफ बृजभूषण के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे पहलवानों और दिल्ली पुलिस के बीच जमकर बवाल हुआ। जिसके बाद पुलिस ने विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, बजरंग पुलिया समेत उनके समर्थकों को हिरासत में ले लिया। जंतर- मंतर को भी खाली करा दिया गया यहां तक की धारा 144 लागू कर दी गई और कहा गया अब पहलवानों को यहां वापस नहीं लौटने दिया जाएगा। ऐसे में सवाल ये उठता है कि पहलवानों की आगे की रणनीति क्या होगी?

आंदोलन खत्म नहीं हुआ- साक्षी मलिक

ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक ने ट्वीट कर जंतर-मंतर पर अपना धरना जारी रखने की कसम खाई।उन्होंने ट्वीट किया, “हमारा आंदोलन खत्म नहीं हुआ है… हम अपना सत्याग्रह जंतर-मंतर से शुरू करेंगे. इस देश में तानाशाही नहीं होगी, बल्कि महिला पहलवानों का सत्याग्रह होगा’।

घर जाने का मतलब नहीं- पूनिया

बजरंग पूनिया ने कहा, जब तक न्याय नहीं मिल जाता तब तक घर जाने का कोई मतलब ही नही है, मैं बाकी पहलवानों से मिलूंगा और हम सब मिलकर तय करेंगे कि आगे क्या करना है. उन्होंने कहा, यह इस देश का दुर्भाग्य है कि एक एक यौन उत्पीड़न का आरोपी नए संसद भवन के उद्घाटन में शामिल हुआ। दिल्ली पुलिस ने हमपर 7 घंटे में FIR दर्ज कर दी लेकिन इन्हें बृजभूषण के खिलाफ FIR दर्ज करने में 7 दिन लग गए।

ये भी पढ़े:Wrestler Protest: जानें #ट्रैक्टरलेकरदिल्ली_चलो और #JantarMantar क्यों ट्रेंड कर रहा ट्विटर पर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *